scorecardresearch
 
यूटिलिटी

निवेश के लिए रहें तैयार, एक साल में 60 से अधिक IPO होंगे लॉन्च

IPO का बाजार रहेगा गुलजार
  • 1/5


अगले एक साल तक आईपीओ का बाजार गुलजार रहने वाला है. करीब 60 से अधिक स्मॉल एंड मीडियम एंटरप्राइजेज (Small and Medium Enterprises) IPO लाने की तैयारी में हैं. ये कंपनियां अपने कारोबार को विस्तार देने के लिए फंड जुटाने में लगी हैं. 

BSE की ओर से यह जानकारी दी गई
  • 2/5

ये SME बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज के एसएमई प्लेटफॉर्म पर खुद को सूचीबद्ध कराएंगे. BSE की ओर से यह जानकारी दी गई है. बीएसई के एसएमई और स्टार्टअप प्रमुख अजय ठाकुर ने कहा कि इन कंपनियों को एक्सचेंज के एसएमई प्लेटफॉर्म पर सूचीबद्ध किया जाएगा. 
     

सूचीबद्धता के प्रति जागरूक करने के लिए वेबिनार
  • 3/5

पिछले साल सिर्फ 16 एसएमई ने आईपीओ के जरिये 100 करोड़ रुपये जुटाए थे. अजय ठाकुर ने पीटीआई से बताया कि कोरोना महामारी के दौरान एक्सचेंज ने एसएमई को इक्विटी वित्तपोषण और सूचीबद्धता के प्रति जागरूक करने को करीब 150 वेबिनार का आयोजन किया है.
 

लिस्टिंग से SME की बढ़ती है पहचान
  • 4/5

लिस्टिंग से SME की बढ़ती है पहचान
अजय ठाकुर की मानें तो स्टॉक एक्सचेंज में लिस्टिंग के बाद एसएमई की पहचान बढ़ती है. कंपनी को अपनी ब्रांड बिल्डिंग मदद मिलती है. इसके अलावा कंपनी की क्रेडिट रेटिंग में सुधार होता है. जिससे भविष्य में कंपनी को आसानी से वित्तीय सुविधा मिलती है. आगे लिस्ट होने वाली कंपनियां आईटी, ऑटो कंपोनेंट्स, फार्मा, इंफ्रा और हॉस्पिटैलिटी से संबंधित हैं.

337 एसएमई हो चुके हैं सूचीबद्ध
  • 5/5

337 एसएमई हो चुके हैं सूचीबद्ध
उन्होंने बताया कि BSE एसएमई में 400 एसएमई ने दस्तावेज जमा कराए हैं. इनमें से 337 पहले ही सूचीबद्ध हो चुकी हैं. बाकी 63 एसएमई यूनिट्स एक साल के समय में सूचीबद्ध होंगी. उन्होंने कहा कि पिछले साल हमने कई कदम उठाए थे, जिससे हमारे मंच  पर हर महीने एक कंपनी सूचीबद्ध हुई.