scorecardresearch
 

व्यापार मार्जिन पर सरकार ने लगाया कैप, ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर के 54% तक घटेंगे दाम

ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटरों के व्यापार मार्जिन युक्तिकरण (टीएमआर) की वजह से आयातित उत्पादों पर होने वाले गैर वाजिब मुनाफा मार्जिन को खत्म करके उपभोक्ताओं को राहत देने की कोशिश की गई है.

ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर के घटेंगे दाम (सांकेतिक फोटो) ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर के घटेंगे दाम (सांकेतिक फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ट्रेड मार्जिन पर लगाया गया कैप
  • ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर के घटे दाम

राष्ट्रीय औषध मूल्य निर्धारण प्राधिकरण (एनपीपीए) ने 3 जून, 2021 को जारी अधिसूचना के माध्यम से ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर पर वितरक के लिए तय की गई कीमत (पीटीडी) पर व्यापार मार्जिन 70 प्रतिशत तक सीमित कर दिया है, यानी कि मार्जिन पर कैप लगा दिया है. इसी क्रम में, ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटरों के कुल 104 मैन्युफैक्चरर ने 252 ब्रांडों के लिए नया रिवाइज्ड एमआरपी जमा किया है.

संबंधित 70 ब्रांडों के मूल्य में 54 प्रतिशत तक की कमी के बाद एमआरपी में 54,337 रुपये प्रति इकाई की कमी आई है. इसके अलावा 58 ब्रांडों की कीमतों में 25 प्रतिशत तक और 11 ब्रांडों की कीमत में 26-50 प्रतिशत तक कमी दर्ज की गई है. 252 उत्पादों में से 18 उत्पादों की कीमतों में कोई गिरावट नहीं आई है. 

इस प्रकार, ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटरों के ट्रे़ड मार्जिन रेशनलाइजेशन (टीएमआर) की वजह से उत्पादों पर होने वाले गैर वाजिब मुनाफा मार्जिन को खत्म करके उपभोक्ताओं को राहत देने की कोशिश की गई है.

एमआरपी में सबसे ज्यादा गिरावट इन श्रेणियों में देखी गई है :

पोर्टेबल- 5 एलपीएम (80 उत्पादों में से 19 में)
पोर्टेबल- 10 एलपीएम (32 उत्पादों में से 7 में)
स्टेशनरी- 5 एलपीएम (46 उत्पादों में से 19 में)
स्टेशनरी- 10 एलपीएम (27 उत्पादों में से 13 में)
 

सभी ब्रांडों के लिए तय की गई नई एमआरपी 9 जून, 2021 से प्रभावी हैं और सख्त निगरानी व लागू करने के लिए राज्य औषध नियंत्रकों के साथ डिटेल साझा कर दिए गए हैं. एनपीपीए (www.nppa.gov.in) की वेबसाइट पर संबंधित निर्देश मौजूद हैं.

उपलब्धता की निगरानी के क्रम में ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटरों के मैन्युफैक्चरर या आयातकों को मासिक स्टॉक विवरण जमा करने के निर्देश दिए गए हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें