scorecardresearch
 

मूडीज रैंकिंग पर जेटली- हमारे सुधारों को मिली सराहना, आगे भी जारी रखेंगे सुधार

क्रेडिट रेटिंग एजेंसी मूडीज की तरफ से भारत की रैंक‍िंग में सुधार को मोदी सरकार ने अपने सुधारों का नतीजा बताया है. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि पिछले तीन साल के दौरान सरकार की तरफ से किए गए सुधारों को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सराहना मिली है. इससे जाहिर तौर पर हमें प्रोत्साहन मिला है. उन्होंने कहा कि हम अभी तक आर्थिक विकास के जिस रास्ते पर चल रहे थे, आगे भी उस पर चलते रहेंगे.

अरुण जेटली अरुण जेटली

क्रेडिट रेटिंग एजेंसी मूडीज की तरफ से भारत की रैंक‍िंग में सुधार को मोदी सरकार ने अपने सुधारों का नतीजा बताया है. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि पिछले तीन साल के दौरान सरकार की तरफ से किए गए सुधारों को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सराहना मिली है. इससे जाहिर तौर पर हमें प्रोत्साहन मिला है. उन्होंने कहा कि हम अभी तक आर्थिक विकास के जिस रास्ते पर चल रहे थे, आगे भी उस पर चलते रहेंगे.

तीन सालों की मेहनत का असर

अरुण जेटली ने कहा कि ये बहुत ही ज्यादा प्रोत्साहित करने वाला है कि भारत सरकार की तरफ से उठाए गए कदम को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सराहना मिली है. उन्होंने कहा कि पिछले तीन साल के दौरान भारत सबसे तेजी से विकास करने वाले देश के तौर  पर उभरा है. इस दौरान भारत उन कुछ देशों में शामिल हुआ  है, जिन्होंने बुनियादी ढांचे को मजबूत करने पर सबसे ज्यादा ध्यान दिया है.

मोदी सरकार की कोश‍िशों ने लाया रंग

वित्त मंत्री ने कहा कि मूडीज ने भारत की रैंकिंग में जो सुधार किया है. उसके लिए मोदी सरकार की तरफ से उठाए गए कदम हैं.  भारतीय अर्थव्यवस्था की मूडीज ने रेटिंग को पॉजिट‍िव से स्टेबल किया गया है. उन्होंने कहा कि जब सकारात्मक कदम उठते हैं, तब ही ऐसी रेटिंग मिलती है. यह पिछले तीन सालों के भीतर हुए आर्थ‍िक सुधारों  पर भी मुहर लगाता है.

अर्थव्यवस्था में सुधार

पिछले तीन साल के दौरान भारतीय अर्थव्यवस्था में काफी सुधार हुआ है. विश्व रैक‍िंग में हमारी स्थिति काफी अच्छी हुई है और हमने ऊंची छलांग मारी है. दुनिया इससे हैरान है कि कैसे भारत ने इतने कम समय में बुनियादी ढ़ाचे में सुधार के लिए इतने सारे कदम उठाए हैं.

देश में लाया वित्तीय अनुशासन

वित्त मंत्री ने कहा कि हमने जो वित्तीय अनुशासन लाया है. इसके अलावा जो सुधार किए हैं. इन्हे हम आगे भी जारी रखेंगे. डिजिटलीकरण, आधार, जीएसटी और बैंक रिकैपिटलाइजेशन के असर ने अर्थव्यवस्था को फायदा दिलाया है और आगे भी यह अर्थव्यवस्था को फायदा  दिलाएंगे. उन्होंने कहा कि इन्हीं सुधारों की बदौलत आज भारत को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सराहना मिली है.

हमने उठाए बेहतर कदम

हमारा पिछले तीन साल का ट्रैक रिकॉर्ड बताता है कि हम अर्थव्यवस्था के लिए बेहतर कदम उठा रहे हैं. ,हम आगे भी ऐसे कदम उठाते रहेंगे. ये भारतीय अर्थव्यवस्था के इतिहास के सबसे बेहतर रिकॉर्ड हैं. पिछले तीन सालों के दौरान हमने बुनियादी ढांचे को बढ़ावा देने पर ज्यादा फोकस किया है. ऐसी रेटिंग्स के बाद हमारी क्षमता तो निश्च‍ित तौर पर बढ़ती है. हम जो आर्थ‍िक अनुशासन बना कर रखेंगे और मौजूदा रास्ते पर आगे बढ़ते रहेंगे.

विपक्ष को मिल गया है जवाब

वित्त मंत्री ने कहा कि जीएसटी और नोटबंदी को लेकर लगातार सवाल उठा रही विपक्षी पार्टियों को अब जवाब मिल गया है. उन्होंने कहा कि जो लोग भारतीय अर्थव्यवस्था की विकास दर पर सवाल उठा रहे हैं, उन्हें अब ये रेटिंग देखनी चाहिए.  जेटली ने कहा कि बुनियादी ढांचे में सुधार के फैसले राजनीतिक आधार पर नहीं होते.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें