scorecardresearch
 

शेयर बाजार में हाहाकार, सेंसेक्स 1100 अंक से ज्यादा टूटा, निफ्टी भी धड़ाम

गुरुवार को कारोबार के अंत में सेंसेक्स 2.96 फीसदी या 1114.82 अंक की गिरावट के साथ 36,553.60 अंक पर आ गया. निफ्टी की बात करें तो 326.30 अंक या 2.93 फीसदी गिरावट के साथ 10,805.55 अंक पर आ गया.

शेयर बाजार में गिरावट का दौर जारी शेयर बाजार में गिरावट का दौर जारी
स्टोरी हाइलाइट्स
  • गुरुवार को शेयर बाजार में भारी गिरावट
  • सेंसेक्स 1100 अंक से अधिक लुढ़क गया
  • निफ्टी में आई 325 अंक की बड़ी गिरावट

शेयर बाजार की हालत एक बार फिर मार्च महीने जैसी हो गई है. मार्च महीने में कोरोना के फैलाव और लॉकडाउन की वजह से शेयर बाजार भारी गिरावट के दौर से गुजर रहा था. बीते कुछ दिनों में एक बार फिर शेयर बाजार में जबरदस्त बिकवाली का दौर देखने को मिल रहा है. सप्ताह के चौथे कारोबारी दिन यानी गुरुवार को कारोबार के दौरान सेंसेंक्स 1100 अंक की गिरावट के साथ 36,550 अंक के स्तर पर आ गया.

निफ्टी की बात करें तो 350 अंक की गिरावट के साथ 10,800 अंक के नीचे लुढ़क गया. कारोबार के अंत में सेंसेक्स 2.96 फीसदी या 1114.82 अंक की गिरावट के साथ 36,553.60 अंक पर आ गया. निफ्टी की बात करें तो 326.30 अंक या 2.93 फीसदी गिरावट के साथ 10,805.55 अंक पर आ गया. भारतीय शेयर बाजार में बिकवाली की वजह से निवेशकों को 3 लाख 92 हजार करोड़ रुपया का नुकसान हुआ है. 

बैंकिंग, आईटी, ऑटो शेयर सब लुढ़के
कारोबार के दौरान बीएसई इंडेक्स के सभी शेयर लाल निशान पर थे. कारोबार के आखिरी घंटे में इंडसइंड बैंक के शेयर 8 फीसदी लुढ़क गए. बजाज फाइनेंस, टेक महिंद्रा, टीसीएस, महिंद्रा एंड महिंद्रा के शेयर भी टॉप लूजर में शामिल हैं. टाटा स्टील, इन्फोसिस, एक्सिस बैंक, मारुति, एयरटेल के शेयर में भी गिरावट दर्ज की गई है. 

क्या है गिरावट की वजह
दरअसल, ग्लोबली स्तर पर कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों और वैक्सीन को लेकर कोई ठोस उपाय नहीं होने की वजह से निवेशकों के बीच चिंता है. ऐसे में वैश्विक निवेशक सतर्क हैं. वहीं, घरेलू बाजार में मुनाफावसूली भी दिख रही है. आपको बता दें कि अगस्त में रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने शेयरधारकों को सचेत करते हुए कहा ​था कि शेयर बाजार की हालत असल अर्थव्यवस्था के मुताबिक नहीं दिख रही है, इसलिए इसमें आगे गिरावट हो सकती है. 

दोपहर तीन बजे के बाद की स्थिति

बुधवार को बाजार का हाल
वैश्विक बाजारों से मजबूती के संकेत मिलने के बावजूद देश के शेयर बाजारों में धारणा कमजोर रहने से बुधवार को लगातार पाचवें दिन गिरावट रही. कारोबार के अंत में सेंसेक्स 65.66 अंक यानी 0.17 प्रतिशत की गिरावट के साथ 37,668.42 अंक पर बंद हुआ. इसी प्रकार, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 21.80 अंक यानी 0.20 प्रतिशत की गिरावट के साथ 11,131.85 अंक पर बंद हुआ. 

दूरसंचार शेयरों में रही गिरावट
दूरसंचार और वित्तीय कंपनियों के शेयरों में बिकवाली रही जबकि बाजार में अच्छी दखल रखने वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज और एचडीएफसी बैंक में तेजी ने बाजार के नुकसान पर कुछ हद तक अंकुश लगाया. सेंसेक्स के शेयरों में सर्वाधिक नुकसान में भारती एयरटेल रही. इसका शेयर 7.89 प्रतिशत नीचे आ गया. वोडाफोन आइडिया का शेयर भी एक प्रतिशत से अधिक नीचे आया है. एक दिन पहले रिलायंस जियो के आक्रमक पोस्ट पेड प्लान की घोषणा के बाद कंपनी का शेयर नीचे आया है. 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें