scorecardresearch
 

एक तरफ ‘अज्ञात योगी' का विवाद, दूसरी तरफ NSE को नए ‘चीफ’ का इंतजार

NSE MD and CEO Vacancy: देश का सबसे बड़ा स्टॉक एक्सचेंज अपने नए एमडी और सीईओ की तलाश कर रहा है. फाइनेंशियल सर्विसेज सेक्टर में 25 साल के एक्सपीरियंस वाले कैंडिडेट इस पोस्ट के लिए अप्लाई कर सकते हैं. हालांकि, इससे जुड़ी कुछ और शर्तें भी हैं.

X
फाइल फोटो
फाइल फोटो
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 25 मार्च तक दे सकते हैं अप्लीकेशन
  • फाइनेंशियल कंपनी के सीईओ को मिलेगा अधिक वेटेज

मार्केट शेयर और ट्रेडिंग वॉल्यूम के लिहाज से देश के सबसे बड़े स्टॉक एक्सचेंज नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) ने नए MD एवं CEO की तलाश शुरू कर दी है. एक्सचेंज के मौजूदा एमडी और सीईओ विक्रम लिमये का कार्यकाल इस साल जुलाई में समाप्त हो रहा है. कंपनी की ओर से जारी विज्ञापन के अनुसार, एक्सचेंज ने ग्लोबल ऑर्गनाइजेशनल कंसल्टेंसी फर्म Korn Ferry को सर्च की जिम्मेदारी दी है. 

विवाद के बीच शुरू हुई तलाश

एक्सचेंज ने नए चीफ की तलाश ऐसे समय में शुरू की है जब एक्सचेंज संभवतः अपने अब तक के सबसे कठिन दौर से गुजर रहा है. कई जांच एजेंसियां और रेगुलेटरी बॉडी NSE में हुई कथित अनियमितताओं की जांच कर रहे हैं.  

सेबी की रिपोर्ट से खड़े हुए सवाल

पिछले महीने सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया (SEBI) ने 190 पेज की एक रिपोर्ट में NSE से जुड़ी कई तरह की गड़बड़ियों को उजागर किया था. मार्केट रेगुलेटर ने एक्सचेंज के पूर्व प्रमुखों रवि नारायण (Ravi Narain) और चित्रा रामकृष्णा (Chitra Ramkrishna) के साथ-साथ NSE के पूर्व ग्रुप ऑपरेटिंग ऑफिसर आनंद सुब्रमण्यम पर जुर्माना लगाया था. सेबी के ऑर्डर के बाद सुब्रमण्यम को गिरफ्तार किया जा चुका है. 

कैपिटल मार्केट रेगुलेटर ने एक्सचेंज पर छह माह तक नए प्रोडक्ट लॉन्च करने की पाबंदी लगा दी है. 

NSE के चीफ के लिए चाहिए ये एलिजिबिलिटी

NSE एक्सचेंज के टॉप पोस्ट के लिए कैपिटल मार्केट में कम-से-कम 25 साल और लीडरशिप लेवल पर पांच साल के एक्सपीरियंस वाले व्यक्ति की तलाश कर रही है. एक्सचेंज किसी फाइनेंशियल सर्विसेज सेक्टर कंपनी के सीईओ को एनएसई प्रमुख पद के लिए प्राथमिकता देगा.

विज्ञापन में यह बात भी है दिलचस्प

दिलचस्प यह है कि विज्ञापन में जिन एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया का उल्लेख किया गया है, उसमें कहा गया है कि उम्मीदवार के पास कॉरपोरेट गवर्नेंस को मजबूती देने, एंटरप्राइज रिस्क मैनेजमेंट और कम्पलाइंस मैनेजमेंट फ्रेमवर्क का तजुर्बा होना चाहिए. 

इससे मिलेगा फायदा

एडवरटाइजमेंट में कहा गया है कि लिस्टेड कंपनी में काम करने का एक्सपीरियंस या आईपीओ के जरिए कंपनी की लिस्टिंग कराने वाले शख्स को ज्यादा वेटेज दिया जाएगा. 

25 मार्च तक दे सकते हैं अप्लीकेशन

NSE ने कहा है कि 25 मार्च तक इस वैकेंसी के लिए अप्लीकेशन दिया जा सकता है. 30 जून तक उम्मीदवार की उम्र 60 साल से कम होनी चाहिए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें