scorecardresearch
 

ऑक्सीजन नाम वाली कंपनियों में लौटी जान, इस शेयर में हुआ 'खेल'  

ऑक्सीजन नाम वाली कंपनियों के शेयर आकर्षण का केंद्र बने हुए हैं. हालांकि, कई ऐसी कंपनियां भी हैं  जिनका प्राणवायु कही जाने वाली ऑक्सीजन गैस के कारोबार से कोई लेना-देना नहीं है.

X
ऑक्सीजन नाम वाली कंपनियों के शेयर आकर्षण का केंद्र ( प्रतीकात्मक तस्वीर) ऑक्सीजन नाम वाली कंपनियों के शेयर आकर्षण का केंद्र ( प्रतीकात्मक तस्वीर)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ऑक्सीजन नाम वाली कंपनियों के दिन बहुरे
  • कई शेयरों में आया जबरदस्त उछाल

कोरोना संकट के बीच देश में ऑक्सीजन की मांग काफी बढ़ गई है. ऑक्सीजन की किल्लत को दूर करने के लिए कॉरपोरेट जगत भी आगे आया है. इस बीच ऑक्सीजन नाम वाली कई कंपनियों के साथ शेयर बाजार में दिलचस्प खेल हो रहा है. ऑक्सीजन (Oxygen) नाम वाली कंपनियों के शेयर आकर्षण का केंद्र बने हुए हैं. हालांकि, कई ऐसी कंपनियां भी हैं  जिनका प्राणवायु कही जाने वाली ऑक्सीजन गैस के कारोबार से कोई लेना-देना नहीं है. 

बॉम्बे ऑक्सीजन की कहानी 

ऐसी ही एक कंपनी बॉम्बे ऑक्सीजन इन्वेस्टमेंट्स लि. का शेयर सोमवार को बीएसई पर ऊपरी सर्किट सीमा 24,574.85 रुपये पर पहुंच गया. यह शेयर निगरानी में है, ऐसे में इसमें अधिकतम लाभ या नुकसान की सीमा पांच फीसदी ही है.

यही नहीं, मंगलवार को जब बहुत से निवेशकों को इसकी जानकारी हुई कि इस कंपनी का ऑक्सीजन के कारोबार से कोई जुड़ाव नहीं है तो इसके शेयर तेजी से गिरने लगे और अंतत: आज इसमें लोअर सर्किट लगा और इसका शेयर 5 फीसदी टूटकर 23346.15 रुपये पर पहुंच गया. वैसे बॉम्बे ऑक्सीजन के शेयर में पिछले कुछ दिन में जबर्दस्त उछाल आया है. कंपनी के शेयर का मूल्य मार्च अंत के 10,000 रुपये से दोगुना से अधिक हो गया है. 

हालांकि, कंपनी की वेबसाइट पर साफ लिखा गया है कि उसकी स्थापना तीन अक्टूबर, 1960 को बॉम्बे ऑक्सीजन कॉरपोरेशन लि. के रूप में हुई थी, लेकिन तीन अक्टूबर, 2018 से उसने अपना नाम बदलकर बॉम्बे इन्वेस्टमेंट्स लि. कर लिया था. कंपनी ने कहा है कि उसका मुख्य कारोबार औद्योगिक गैस के उत्पादन और आपूर्ति का था, जो उसने एक अगस्त, 2019 से बंद कर दिया है.

जानकारों का कहना है कि कंपनी की वेबसाइट में विरोधाभास है. कंपनी अब ऑक्सीजन का कारोबार नहीं कर रही, लेकिन उत्पाद खंड में ऑक्सीजन और अन्य औद्योगिक गैसों का उल्लेख है. हालांकि, मुंबई की कंपनी को बीएसई में गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनी (एनबीएफसी) के रूप में दर्शाया गया है. 31 दिसंबर, 2020 को समाप्त वित्त वर्ष में कंपनी की कुल आय 33.79 करोड़ रुपये और मुनाफा 31.69 करोड़ रुपये था. कंपनी का बाजार पूंजीकरण अभी 368 करोड़ रुपये का है. 

इन शेयरों में आया उछाल 

कुछ यही ‘गैस’ और ऑक्सीजन नाम वाली अन्य कंपनियों के शेयरों में हुआ. इनमें से कुछ कंपनियां वास्तव में ऑक्सीजन का उत्पादन करती हैं. जैसे नेशनल ऑक्सीजन लि​मिटेड (National Oxygen Ltd) भी ऑक्सीजन और अन्य औद्योगिक गैसों का उत्पादन करती है. पिछले एक हफ्ते में इस कंपनी के शेयर में 21 फीसदी और पिछले तीन महीने में 75 फीसदी की तेजी आ चुकी है.  

ऑक्सीजन का उत्पादन करने वाली एक और कंपनी है  भगवती ऑक्सीजन लिमिटेड के शेयर में मंगलवार को 5 फीसदी का अपर सर्किट लगा. कंपनी का शेयर करीब 5 फीसदी उछालकर 18.94 रुपये पर पहुंच गया. पिछले एक साल में इसका शेयर करीब 80 फीसदी चढ़ चुका है. 

Oxygen का उत्पादन करने वाली दो अन्य कंपनियों Linde India के शेयर में एक महीने में 113 फीसदी से ज्यादा और Gagan Gases में एक महीने में 53 फीसदी की तेजी आई है. 

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें