scorecardresearch
 

बाबा रामदेव का 'डीमैट आसन'! करोड़पति बनने की दी गारंटी, SEBI ले सकता है एक्शन

Baba Ramdev in trouble: अपने समर्थकों के बीच एक योग सत्र के दौरान बाबा रामेदव ने करोड़पति बनाने की गारंटी दे दी है. अब इस बात के आसार हैं कि पूंजी बाजार नियामक SEBI इस पर कार्रवाई कर सकता है. 

X
बाबा रामदेव से हुई गलती (फाइल फोटो) बाबा रामदेव से हुई गलती (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बाबा रामदेव से हुई गलती
  • नियमों के खिलाफ है बयान

शेयर बाजार और कॉरपोरेट की दुनिया की बारीकियां सीख रहे बाबा रामेदव से एक गलती (Baba Ramdev in trouble) हो गई है. अपने समर्थकों के बीच एक योग सत्र के दौरान बाबा रामेदव ने करोड़पति बनाने की गारंटी दे दी है. अब इस बात के आसार हैं कि पूंजी बाजार नियामक सेबी इस पर कार्रवाई कर सकता है. 

इस बारे में एक वीडियो वायरल हुआ है जिसमें बाबा रामदेव हाल में एक योग सत्र के दौरान अपने समर्थकों से कहते हैं, ' आप लोग डीमैट अकांउट खुलवाएं और रुचि सोया के शेयरों में पैसा लगाएं. आप करोड़पति बन जाएंगे इस बात की मेरी पूरी गारंटी है.' 

क्या हैं नियम 

असल में इस तरह की गारंटी की बात करना सेबी के नियमों के ख‍िलाफ है. भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (SEBI) के नियमों के मुताबिक किसी कंपनी के अध‍िकारी या कंपनी की तरफ से निवेशकों को लुभाने वाले ऐसे बयान नहीं दिए जा सकते. 

शेयरों के बारे में कोई भी व्यक्ति किसी को ऐसे सलाह नहीं दे सकता.अगर कोई व्यक्ति लोगों को किसी शेयर में निवेश की सलाह दे रहा है तो उसे SEBI में रजिस्टर्ड निवेश सलाहकार होना चाहिए. SEBI का इतिहास रहा है कि उसने ऐसे मामलों में सख्ती बरती है. साल 2017 में ऐसे ही एक मामले में सेबी ने इमामी के चेयरमैन आर.एस. अग्रवाल पर 8 लाख रुपये का जुर्माना लगाया था. 

सेबी के पास है पावर
 
कानूनविदों का कहना है कि सेबी के पास इस मामले में काफी पावर है और वह ऐसे बयान देने वाली कंपनियों या अध‍िकारियों पर जुर्माना लगा सकता है या उन्हें चेतावनी जारी कर सकता है. 

गौरतलब है कि रुचि सोया को पतंजलि समूह ने साल 2019 में खरीदा था. शेयर बाजार में किसी भी कंपनी में निवेश या ट्रेडिंग जोख‍िम से भरा होता है और कोई भी यह गारंटी नहीं ले सकता है कि भविष्य में इसमें फायदा होगा ही. सेबी के नियमों के मुताबिक कोई भी कंपनी निवेशकों को निश्चित रिटर्न मिलने की गारंटी भी नहीं दे सकती.

कई मीडिया रिपोर्ट में तो कहा गया है कि सेबी बाबा रामेदव के इस वीडियो पर संज्ञान ले चुका है और उसने इस पर बाबा रामेदव से सफाई मांगी है. बाबा रामदेव के इस बयान की टाइमिंग को भी काफी गंभीरता से देखा जा रहा है क्योंकि रुचि सोया का फॉलो ऑन पब्ल‍िक ऑफर आना है. बिजनेस टुडे ने इस बारे में बाबा रामेदव की मीडिया टीम को ई-मेल कर जानकारी मांगी है, लेकिन अभी तक कोई जवाब नहीं मिला है. 

(www.businesstoday.in के इनपुट पर आधारित) 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें