scorecardresearch
 

एमेजॉन भी ‘मेक इन इंडिया’ की राह पर, चेन्नई में बनाएगी फायर स्टिक, इस कंपनी के साथ हुई डील

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की महत्वाकांक्षी परियोजना ‘मेक इन इंडिया’ में सफलता का एक और नया अध्याय जुड़ने जा रहा है. दुनिया की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी एमेजॉन अपने इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस का भारत में विनिर्माण शुरू करेगी, जानें इससे जुड़ी और बातें...

एमेजॉन इडिया (सांकेतिक फोटो) एमेजॉन इडिया (सांकेतिक फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • फॉक्सकॉन की सब्सिडियरी के साथ डील
  • देश में कंपनी की पहली विनिर्माण इकाई
  • आत्मनिर्भर भारत के लिए प्रतिबद्ध है एमेजॉन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की महत्वाकांक्षी परियोजना ‘मेक इन इंडिया’ में सफलता का एक और नया अध्याय जुड़ने जा रहा है. दुनिया की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी एमेजॉन अपने इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस का भारत में विनिर्माण शुरू करेगी, जानें इससे जुड़ी और बातें

चेन्नई बनाएगी फायर स्टिक
एक न्यूज एजेंसी की खबर के मुताबिक एमेजॉन भारत में फायर स्टिक जैसे उत्पाद बनाने की तैयारी कर रही है. कंपनी ने अपने ब्लॉग में कहा है कि वह हर साल हजारों की तादाद में फायर स्टिक का उत्पादन करेगी. इनका उत्पादन इसी साल के आखिर तक शुरू हो जाएगा.

आत्मनिर्भर भारत को प्रतिबद्ध
कंपनी ने अपने ब्लॉग में कहा कि ‘आत्मनिर्भर भारत’ के लिए वह सरकार के ‘मेक इन इंडिया’ अभियान को लेकर प्रतिबद्ध है. यह देश में उसकी पहली विनिर्माण इकाई होगी.

फॉक्सकॉन की सब्सिडियरी के साथ डील
एमेजॉन ने देश में इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस के विनिर्माण के लिए ठेके पर उत्पादन करने वाली कंपनी Cloud Network Technology के साथ गठजोड़ किया है. यह ताइवानी कंपनी  Foxconn की सब्सिडियरी है जे ऐप्पल के लिए iPads, iPhones वगैरह का भी निर्माण करती है.

रविशंकर प्रसाद ने दी जानकारी
एमेजॉन इंडिया के ग्लोबल सीनियर वाइस प्रेसिडेंट अमित अग्रवाल ने सूचना प्रौद्योगिकी एवं इलेक्ट्रॉनिक्स मंत्री रविशंकर प्रसाद के साथ एक वर्चुअल मीटिंग में कंपनी की योजना के बारे में बताया. केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा है कि भारत निवेश के लिए काफी आकर्षक है और इलेक्ट्रॉनिक्स, आईटी प्रोडेक्ट्स में एक बड़ा उत्पादक बन कर उभरेगा. भारत सरकार की  Production Linked Incentive (PLI) योजना को वैश्विक स्तर पर अच्छा रिस्पॉन्स मिला है. हम एमेजॉन के चेन्नई में उत्पादन इकाई लगाने के निर्णय का स्वागत करते हैं.

छोटे कारोबारियों को बनाएगी डिजिटल
एमेजॉन देश में 1 करोड़ छोटे और मझौले कारोबारियों को डिजिटल टेक्नोलॉजी की सुविधा देने के लिए 1 अरब  डॉलर का निवेश करने को तैयार है. इससे देश से बड़ी मात्रा में एक्सपोर्ट हो सकेगा और 2025 तक करीब 10 लाख लोगों को रोजगार मिलने की उम्मीद है.

ये भी पढ़ें:
 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें