scorecardresearch
 

Akash Ambani appointed Jio Chairman: चौमुखी प्रतिभा के धनी हैं आकाश अंबानी, क्रिकेट के साथ फुटबॉल के भी शौकीन

इसी क्रम में मुकेश अंबानी ने अपने बड़े बेटे आकाश अंबानी को रिलायंस जियो (Reliance Jio) की कमान सौंप दी है.  23 अक्टूबर 1991 को जन्मे आकाश फिलहाल जियो टेलिकॉम के स्ट्रेटजी हेड के रूप में काम कर रहे थे.

X
आकाश अंबानी को मिली रिलायंस जियो की कमान आकाश अंबानी को मिली रिलायंस जियो की कमान
स्टोरी हाइलाइट्स
  • आकाश अंबानी की 2014 में हुई थी जियो में एंट्री
  • अमेरिका की ब्राउन यूनिवर्सिटी से किया है ग्रेजुएशन

रिलायंस समूह (Reliance Group) के चेयरमैन मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) ने अब अपने बेटों को गद्दी सौंपने की तैयारी शुरू कर दी है. इसी क्रम में मुकेश अंबानी ने अपने बड़े बेटे आकाश अंबानी (Akash Ambani) को रिलायंस जियो (Reliance Jio) की कमान सौंप दी है. 23 अक्टूबर 1991 को जन्मे आकाश फिलहाल जियो टेलिकॉम के स्ट्रेटजी हेड के रूप में काम कर रहे थे.

साल 2014 में उन्हें रिलायंस रिटेल और जियो की निदेशक समिति में शामिल किया गया था. आकाश ने साल 2015 में अपनी बहन ईशा अंबानी के साथ मिलकर भारत में जियो की 4 जी सर्विस की शुरुआत की थी. जियो 4जी इको सिस्टम को खड़ा करने का श्रेय काफी हद तक आकाश अंबानी को जाता है.

ब्राउन यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन

बात अगर आकाश की पढ़ाई की करें, तो साल 2009 में आकाश ने धीरूभाई अंबानी इंटरनेशनल स्कूल से आईबी डिप्लोमा प्रोग्राम पूरा करने के बाद साल 2013 में अमेरिका की ब्राउन यूनिवर्सिटी से बिजनेस-कॉमर्स में ग्रेजुएशन कंप्लीट किया. आकाश कारोबारी कर्मचारियों से जुड़ी पहल करने में भी काफी दिलचस्पी लेते हैं, ताकि उनकी कंपनी में युवा संस्कृति को बढ़ावा दिया जा सके.

एक बेटे के पिता हैं आकाश

आकाश अंबानी साल 2019 में हीरा कारोबारी रसेल मेहता की सबसे छोटी बेटी श्लोका मेहता के साथ शादी के बंधन में बंधे थे. आकाश  2020 में पिता बने थे. उनके बेटे का नाम पृथ्वी आकाश अंबानी है.

क्रिकेट-फुटबॉल में दिलचस्पी

आकाश को क्रिकेट न सिर्फ देखना बल्कि खेलना भी काफी पसंद है. वो क्रिकेट को इतना पसंद करते हैं कि उन्होंने साल 2008 में इंडियन प्रीमियर लीग में शामिल अपनी टीम मुंबई इंडियंस की क्रिकेट किट डिजाइन करने में भी काफी दिलचस्पी दिखाई थी.

बहन ईशा के करीब माने जाते हैं आकाश

क्रिकेट के अलावा आकाश फुटबॉल खेलना भी काफी पसंद करते हैं. उन्होंने करीब 5 साल से भी ज्यादा समय धीरूभाई अंबानी इंटरनेशनल में फुटबॉल टीम की कप्तानी करते हुए इंटरनेशनल फुटबॉल कैंप में भी हिस्सा लिया था. एक इंटरव्यू में आकाश ने खुलासा किया था कि जब तक वो सेकेंडरी क्लास में थे, तब तक वो अपने परिवार की संपत्ति से अनजान थे. आकाश अपनी बहन ईशा के काफी करीब माने जाते हैं. दोनों के बीच कोई भी बात सीक्रेट नहीं रह सकती है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें