scorecardresearch
 
बिज़नेस न्यूज़

SBI कार्ड ग्राहकों के लिए बड़ी खबर, फिर मिलेगा कर्ज चुकाने का मौका

मोरेटोरियम की सुविधा
  • 1/7

रिजर्व बैंक ने बीते मार्च में तीन महीने 31 मई, 2020 तक के लिये कर्ज लौटाने को लेकर मोहलत दी थी. बाद में इस अवधि को बढ़ाकर अगस्त 2020 कर दिया गया. हालांकि, इस सुविधा का फायदा उठाने वाले ग्राहक अब भी कर्ज का भुगतान नहीं कर सके हैं. 
 

एसबीआई कार्ड की तैयारी
  • 2/7

इनमें एसबीआई कार्ड के ग्रााहक भी शामिल हैं. एसबीआई कार्ड ऐसे ग्राहकों को और मोहलत देने पर विचार कर रहा है. इसके लिए एसबीआई कार्ड एक योजना पर काम कर रहा है.  
 

स्टैंडर्ड खाता
  • 3/7

एसबीआई कार्ड के सीईओ अश्विनी कुमार तिवारी ने इसकी जानकारी दी है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि कई ग्राहक मोरेटोरियम के पहले तीन महीने का भुगतान नहीं कर रहे हैं. कंपनी उन्हें ‘स्टैंडर्ड’ खाता मान रही है.
 

और समय मिलेगा!
  • 4/7

अश्विनी कुमार तिवारी ने कहा, ‘‘हम भुगतान नहीं करने वाले ग्राहकों को आरबीआई की पुनर्गठन योजना या फिर स्वयं की पुनर्भुगतान योजना से जोड़ने के लिये काम कर रहे हैं ताकि उन्हें बकाया भुगतान के लिए बेहतर ब्याज दर के साथ और समय मिल सके.’’ 

7,083 करोड़ रुपये मोरेटोरियम में
  • 5/7

एसबीआई कार्ड के अनुसार मई में उसके 7,083 करोड़ रुपये मोरेटोरियम में फंसे थे. यह आंकड़ा कम होकर अब 1,500 करोड़ रुपये पर आ गया है. जो ग्राहक आरबीआई के बजाए कंपनी की पुनर्गठन योजना का चयन करेंगे, उन्हें लाभ होगा क्योंकि ऐसे मामलों की जानकारी सिबिल को नहीं दी जाएगी. 
 

पुनर्गठन प्रक्रिया जारी 
  • 6/7

तिवारी ने बताया कि पुनर्गठन प्रक्रिया जारी है. बड़ी संख्या में खातों का रजिस्ट्रेशन होना है और कंपनी को आरबीआई दिशा-निर्देशों के अनुसार इसके लिये 10 प्रतिशत का प्रावधान करना होगा. 
 

एनपीए के लिए प्रावधान
  • 7/7

उन्होंने कहा कि इसके अलावा कुछ ऐसे खाते भी हैं, जो महामारी के कारण निश्चित रूप से एनपीए के दायरे में आएंगे. ऐसे खातों के लिये अतिरिक्त प्रावधान करने की जरूरत होगी. एसबीआई कार्ड प्रमुख ने कहा कि भविष्य को लेकर अनिश्चितता बनी हुई है, हमें ऐसे खातों को लेकर सतर्क रहने की जरूरत है. तिवारी ने कहा कि दूसरी और तीसरी तिमाही स्थिति को बेहतर तरीके से प्रबंधित करने में सक्षम होंगे.