scorecardresearch
 
बिज़नेस न्यूज़

इन कंपनियों में LIC का भारी-भरकम निवेश, IDBI Bank में सबसे ज्यादा शेयर

एलआईसी
  • 1/7

सरकारी बीमा कंपनी एलआईसी का आईपीओ जल्दी ही आने वाला है. इसके बाद यह कंपनी शेयर बाजार पर ट्रेड करने लगेगी. हालांकि इससे पहले भी एलआईसी शेयर मार्केट पर दूसरी कंपनियों के जरिए बड़ी मौजूदगी रखती है. चाहे प्राइवेट सेक्टर हो या सरकारी, एलआईसी के पास मोटी शेयरहोल्डिंग है. कई कंपनियों में तो एलआईसी के पास 40-50 फीसदी होल्डिंग हैं. रिलायंस इंडस्ट्रीज, टीसीएस, इंफोसिस, एलएंडटी जैसी बड़ी प्राइवेट कंपनियों में भी एलआईसी का इन्वेस्टमेंट है. प्राइम डेटाबेस के आंकड़ों के अनुसार, एलआईसी के पास अभी विभिन्न कंपनियों में 9.53 लाख करोड़ रुपये की होल्डिंग है.

IDBI
  • 2/7

एलआईसी के पास हिस्सेदारी के टर्म में सबसे ज्यादा निवेश आईडीबीआई बैंक में है. इस बैंक में एलआईसी के पास 49.24 फीसदी हिस्सेदारी है. बीमा कंपनी इस बैंक की सबसे बड़ी शेयरहोल्डर भी है. इसी तरह एलआईसी हाउसिंग फाइनेंस में सरकारी बीमा कंपनी की 45.24 फीसदी हिस्सेदारी है. यह कंपनी एलआईसी की सब्सिडियरी के तौर पर काम करती है.

Reliance
  • 3/7

वैल्यू के हिसाब से देखें तो देश की सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज में एलआईसी ने सबसे ज्यादा पैसे लगाए हैं. इसमें एलआईसी के पास अभी 95,274 करोड़ रुपये की होल्डिंग है. वहीं हिस्सेदारी की बात करें तो एलआईसी के पास आईटीसी में 16.21 फीसदी, हिंदुस्तान कॉपर में 14.22 फीसदी, एनएमडीसी में 14.16 फीसदी, एमटीएनएल में 13.12 फीसदी, एलएंडटी में 12 फीसदी और ऑयल इंडिया में 11.85 फीसदी शेयर है.

TCS
  • 4/7

आईटी सेक्टर तेजी से ग्रो कर रहा है. पिछले एक दशक के दौरान भारतीय आईटी कंपनियों ने दुनिया भर में नाम कमाया है. एलआईसी ने इसे भुनाने के लिए टॉप आईटी कंपनियों में पैसे लगाए. इससे सरकारी बीमा कंपनी को फायदा भी हुआ. दो टॉप इंडियन आईटी कंपनियों टीसीएस और इंफोसिस में अभी एलआईसी की कम्बाइंड होल्डिंग 95,488 करोड़ रुपये की है. अकेले आईटीसी में एलआईसी के शेयरों की वैल्यू 43,557 करोड़ रुपये है.

SBI
  • 5/7

एलआईसी के पोर्टफोलियो में देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई का भी नाम है. एलआईसी के पास एसबीआई के 33,855 करोड़ रुपये के शेयर हैं. इसके अलावा एलआईसी के पास एलएंडटी के 31,960 करोड़ रुपये, आईसीआईसीआई बैंक के 31,948 करोड़ रुपये और हिंदुस्तान यूनिलीवर के 24,747 करोड़ रुपये के शेयर हैं. ये आंकड़े 31 दिसंबर की वैल्यू के हिसाब से हैं.

HAL
  • 6/7

दिसंबर तिमाही में एलआईसी ने कुछ कंपनियों में अपनी हिस्सेदारी भी बढ़ाई. इन कंपनियों में पावर ग्रिड कॉरपोरेशन, ड्रेजिंग इंडिया, कम्प्यूटर सर्विसेज, कोफॉर्ज, दीपक नाइट्राइट और जेएसडब्ल्यू जैसे नाम शामिल हैं. वहीं दूसरी ओर आईआरबी इंफ्रा, एबीबी इंडिया, हिंदुस्तान मोटर्स, स्टरलाइट टेक्नोलॉजीज, हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स और बॉम्बे डाइंग में एलआईसी ने अपनी हिस्सेदारी कम की.

NSE
  • 7/7

प्राइम डेटाबेस के अनुसार, एनएसई पर लिस्टेड 85 कंपनियों में एलआईसी की होल्डिंग बढ़ी. इसमें 0.69 फीसदी की तेजी आई. दूसरी ओर 99 एनएसई लिस्टेड कंपनियों में एलआईसी ने हिस्सेदारी कम की. इन कंपनियों में एलआईसी ने कुल 4.88 फीसदी हिस्सेदारी कम की. दिसंबर तक के आंकड़ों के अनुसार, एलआईसी के पास एनएसई की 278 कंपनियों में 1 फीसदी से ज्यादा हिस्सेदारी है.