scorecardresearch
 

Ola को लगा एक और झटका, अब कंपनी के इस बड़े अधिकारी ने छोड़ा साथ

26 मार्च को पुणे में एक ओला स्कूटर में आग लगने की घटना सामने आई थी. इसके बाद कंपनी ने 1,441 इलेक्ट्रिक व्हीकल को रिकॉल भी किया. इन सब वजहों से कंपनी की इमेज को काफी धक्का लगा है.

X
भाविश अग्रवाल के करीबी माने जाते हैं वरुण दुबे भाविश अग्रवाल के करीबी माने जाते हैं वरुण दुबे
स्टोरी हाइलाइट्स
  • लगातार आ रही खराबी की शिकायत
  • लग चुकी है एक स्कूटर में आग भी

ओला स्कूटर में तकनीकी खराबी की लगातार आ रही शिकायतों के बीच कंपनी के एक बड़े अधिकारी के जॉब छोड़ने की खबर है. उन्हें Ola Electric के सीईओ Bhavish Aggarwal का काफी करीबी माना जाता है और Ola Scooter की लॉन्चिंग से लेकर डिलीवरी तक ये अधिकारी मीडिया में कंपनी का जाना-पहचाना चेहरा रहे हैं.

मिंट की खबर के मुताबिक, कंपनी के चीफ मार्केटिग ऑफिसर वरुण दुबे (Varun Dubey) ने निजी कारणों के चलते Ola Electric का साथ छोड़ दिया है. उन्होंने साल 2019 में कंपनी ज्वॉइन की थी. हालांकि वरुण दुबे के ट्विटर और लिंक्डइन प्रोफाइल पर अभी तक इसे लेकर कोई अपडेट नहीं दिखा रहा है.

लगातार आ रही ओला स्कूटर में खराबी की शिकायत

अगर आप ट्विटर पर Ola Electric को टैग किए हुए पोस्ट को देखें तो हजारों लोगों ने Ola Scooter में आ रही तकनीकी खराबी की शिकायतें दर्ज कराई हैं. बुधवार को भी पल्लव माहेश्वरी नाम के एक यूजर ने लिंक्डइन पर ओला स्कूटर के रिवर्स मोड में Bug की शिकायत के लिए लंबा-चौड़ा पोस्ट लिखा. रिवर्स मोड की खामी की वजह से उनके 65 साल के पिता ओला स्कूटर से चोटिल हो गए और उनके सिर में 10 टांके आए हैं, साथ ही बांये हाथ में दो प्लेट लगी हैं.

आग लगने के बाद से निगेटिव पब्लिसिटी का शिकार

इतना ही नहीं 26 मार्च को पुणे में एक ओला स्कूटर में आग लगने की घटना सामने आई थी. इसके बाद कंपनी ने 1,441 इलेक्ट्रिक व्हीकल को रिकॉल भी किया है. लेकिन इन सब वजहों से कंपनी की इमेज को काफी धक्का लगा है और उसे लगातार सोशल मीडिया पर निगेटिव पब्लिसिटी का सामना करना पड़ रहा है.

ऐसे में कंपनी के चीफ मार्केटिंग ऑफिसर का साथ छोड़कर जाना कई अहम सवाल खड़े करता है. हालांकि कंपनी की ओर से इस पर अभी कोई आधिकारिक प्रतिक्रिया नहीं दी गई है.

वरुण दुबे के ओला इलेक्ट्रिक छोड़ने से पहले कंपनी के कई और बड़े अधिकारियों के Quit करने की खबर आई है. इसमें कंपनी के चीफ टेक्निकल ऑफिसर दिनेश राधाकृष्णन ने हाल ही में अपने पद से इस्तीफा दिया है. वहीं उनसे पहले Ola Cars के सीईओ अरुण श्रीदेशमुख ने भी कंपनी का साथ छोड़ दिया था.

ये भी पढ़ें:  

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें