scorecardresearch
 
ऑटो न्यूज़

चिप संकट या बढ़ता कॉम्पिटिशन? मारुति की ये पॉपुलर कार टॉप-10 से बाहर

स्विफ्ट की बिक्री में भारी गिरावट
  • 1/7

भारत की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी Maruti Suzuki India के लिए सितंबर का महीना बेहद खराब रहा. बिक्री में भारी गिरावट दर्ज की गई. कोरोना संकट के बावजूद पिछले साल सितंबर में मारुति ने 1,60,442 गाड़ियों की बिक्री की थी. जबकि पिछले महीने मारुति ने कुल 86,380 गाड़ियों की सेल की. 
 

मारुति की बिक्री में 46 फीसदी की गिरावट
  • 2/7

सालाना आधार पर मारुति की बिक्री में 46 फीसदी की गिरावट आई है. मारुति की सबसे ज्यादा बिकने वाली WagonR, Swift, Celerio, Ignis, Baleno और Dzire की बिक्री में भारी गिरावट आई है. सितंबर-2021 में महज 20,891 यूनिट्स ये कारें बिकीं. जबकि पिछले साल यानी सितंबर-2020 में 84,213 यूनिट्स बिकी थी. यानी बिक्री में करीब 75 फीसदी से ज्यादा की गिरावट आई है. 

बेस्ट सेलिंग कार स्विफ्ट टॉप-10 से बाहर
  • 3/7

बिक्री के आंकड़ों को देखें तो मारुति की बेस्ट सेलिंग कार स्विफ्ट (Swift) पर सबसे ज्यादा मार पड़ी है. हमेशा मारुति की यह कार देश में टॉप-10 सेलिंग कारों की लिस्ट में रहती थी. यही नहीं, लगातार कई महीनों तक यह देश में सबसे ज्यादा बिकने वाली कार थी. लेकिन सितंबर में मारुति स्विफ्ट टॉप-10 से बाहर हो गई. 
 

मारुति सुजुकी ऑल्टो बिक्री में नंबर-1
  • 4/7

यही नहीं, अगस्त-2021 में मारुति स्विफ्ट (Maruti Swift) बेस्ट सेलिंग कारों की लिस्ट में 5वें नंबर पर थी. लेकिन सितंबर में टॉप-10 की रेस से यह कार बाहर हो गई. वैसे भारत में सबसे ज्यादा बिकने वाली टॉप-10 कारों की लिस्ट में अभी भी 5 कारें मारुति की हैं. सितंबर में सबसे ज्यादा मारुति सुजुकी ऑल्टो की 12,143 यूनिट्स बिकी. मारुति की ये पांच कारें- Maruti Suzuki Alto, Ertiga, Baleno, Eeco, WagonR टॉप-10 में शामिल हैं. 

Maruti suzuki sale data
  • 5/7

हालांकि कंपनी ने अभी ये आंकड़ा नहीं दिया है कि सितंबर में कितनी स्विफ्ट की बिक्री हुई. लेकिन टॉप-10 की लिस्ट में 10वें नंबर पर Tata Altroz है, जो 5772 यूनिट्स बिकी है. जबकि स्विफ्ट को टॉप-10 में जगह नहीं मिली है. यानी बिक्री का आंकड़ा Tata Altroz से भी में कम होगा. 
 

चिप (सेमीकंडक्टर) संकट
  • 6/7

बिक्री में गिरावट की सबसे बड़ी वजह चिप (सेमीकंडक्टर) संकट को बताया जा रहा है. चिप की कमी की वजह से सभी कारों की बिक्री घटी है. लेकिन मारुति सुजुकी स्विफ्ट बिक्री में भारी गिरावट की वजह चिप संकट के साथ-साथ इस सेगमेंट बढ़ता कम्पीटिशन भी एक कारण है. पिछले कुछ महीनों में इस सेगमेंट में दूसरी कंपनियों की कारों की बिक्री बढ़ी है.

पिछले साल बिक्री में नंबर-1 पर थी स्विफ्ट
  • 7/7

गौरतलब है कि वित्त वर्ष 2020-21 के दौरान बिक्री के मामले में पहले स्थान पर मारुति स्विफ्ट रही थी. पिछले वित्त वर्ष में स्विफ्ट की कुल 1,72,671 यूनिट्स बिकी थी. जबकि वित्त वर्ष 2019-20 में भी स्विफ्ट की बिक्री 1,87,916 यूनिट्स रही है.