scorecardresearch
 

Cotton Farming: किसानों के लिए खुशखबरी! कपास की खेती करने वालों को हरियाणा सरकार दे रही प्रति एकड़ तीन हजार रुपये

Cotton Farming: हरियाणा सरकार ने राज्य में देसी कपास का उत्पादन बढ़ाने का प्रयास कर रही है. पिछले सीजन में प्रदेश में करीब 15.90 एकड़ में कपास की खेती की गई थी. इस खरीफ सीजन में सरकार ने 19.25 एकड़ क्षेत्र में कपास की बिजाई का लक्ष्य रखा है. इसी के तहत हरियाणा सरकार प्रति एकड़ देसी कपास की खेती पर 3 हजार रुपये का अनुदान दे रही है.

X
Cotton Farming Cotton Farming
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कपास का उत्पादन बढ़ाने का लक्ष्य
  • 30 जून तक कर दें आवेदन

Haryana Cotton Farming: किसानों की आर्थिक स्थिति बेहतर करने के लिए सरकार की ओर से कई तरह की योजनाएं चलाई जाती हैं. कई अलग और नई तरह की फसलों की खेती करने के लिए राज्य सरकार की तरफ से प्रोत्साहित किया जाता रहा है. इसी कड़ी में हरियाणा सरकार  भी कपास की खेती करने वाले किसानों को प्रति एकड़ 3 हजार रुपये की सब्सिडी दे रही है.

कपास के रकबे को बढ़ाने पर सरकार का दोर

हरियाणा सरकार राज्य में देसी कपास का उत्पादन बढ़ाने के लिए फैसला लिया है. पिछले सीजन में प्रदेश में करीब 15.90 एकड़ में कपास की खेती की गई थी. इस खरीफ सीजन में सरकार ने 19.25 एकड़ क्षेत्र में कपास की बिजाई का लक्ष्य रखा है.

यहां करें रजिस्ट्रेशन

कपास की फसल पर अनुदान का लाभ प्राप्त करने के इच्छुक किसानों को सबसे पहले मेरी फसल मेरा ब्यौरा पार्टल पर रजिस्ट्रेशन करना होगा. आधिकारिक वेबसाइट fasal.haryana.gov.in पर जाकर किसान 30 जून तक अपना रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं. इससे पहले यह रजिस्ट्रेशन करने की आखिरी तारीख 31 मई रखी गई थी. किसानों की मांग को देखते हुए इस तारीख को बढ़ा दिया गया है. 

कम वक्त में ज्यादा मुनाफा

बता दें कि कपास खरीफ सीजन में उगाई जाने वाली एक प्रमुख नकदी फसल है. इसका मार्केट भी काफी अच्छा-खासा है. अगर किसान सही तरीके और विशेषज्ञों की सलाह से इसकी खेती करे तो कम वक्त और कम लागत में बढ़िया मुनाफा कमा सकते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें