scorecardresearch
 

अंदरूनी कलह से परेशान Taliban, हक्कानी नेटवर्क और बरादर में क्यों है टकराव? समझें

अंदरूनी कलह से परेशान Taliban, हक्कानी नेटवर्क और बरादर में क्यों है टकराव? समझें

एक पखवाड़े पहले तालिबान के सबसे ताकतवर नेताओं में शुमार मुल्ला बरादर के दिन अब गर्दिश में है. उसके मारे जाने या घायल होने तक की अफवाहें उड़ीं. मुल्ला बरादर के मारे जाने की अटकलों के बीच अफगानिस्तान की सरकारी टीवी पर बरादर का एक इंटरव्यू प्रसारित किया गया, जिसके जरिये ये दिखाने की कोशिश हुई है कि बरादर जिंदा है. हालांकि बरादर के बहाने तालिबान सरकार में दरार सामने आ गई है. तालिबान की सरकार बन गई. राष्ट्रपति भवन पर तालिबानी लड़ाकों को कब्जा हो गया. तालिबानी नेताओं के हाथों में देश की कमान आ गई लेकिन मुल्ला बरदार से देश के प्रधानमंत्री की कुरसी छिटक गई. देखें पूरी रिपोर्ट.

Mullah Baradar is considered one of the most powerful leaders of the Taliban. But his times are going bad. There were rumors of his death or being injured. There are reports of a rift in the Taliban. There is a clash going on between the Haqqani network and Mullah Baradar. Watsh the full report.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें