scorecardresearch
 

Taliban सरकार का हुक्म- ज‍िस दफ्तर में पुरुष कर्मचारी, वहां महिलाएं न करें काम

Taliban सरकार का हुक्म- ज‍िस दफ्तर में पुरुष कर्मचारी, वहां महिलाएं न करें काम

तालिबान कहता है वो छवि बदल रहा है मगर उसके ढोंग का पर्दाफाश अपने अधिकारों के लिए लड़ रही ये महिलाएं ही कर रही हैं. सरकार में एक भी महिला को जगह ना देकर तालिबान ने गलतफहमी दूर कर दी थी. अब उसका ताजा फरमान रही सही कसर भी पूरी कर देता है. तालिबानी नेता वहीदुल्लाह हाशमी का बयान साफ कर देगा कि महिलाओं की हैसियत अब अफगानिस्तान में क्या रह गई है. 20 साल बाद अफगानिस्तान की महिलाओं के लिए अंधकार युग लौट आया है तालिबान पार्ट-2 सरकार ने कहा है कि महिलाएं ऐसे किसी भी दफ्तर या जगह पर काम नहीं कर सकती हैं जहां पुरुष काम करते हैं. देखें ये वीडियो.

Afghan women should not be allowed to work alongside men, a senior figure in the ruling Taliban said, a position which, if formally implemented, would effectively bar them from employment in government offices, banks, media companies and beyond. Since the movement swept to power last month, Taliban officials have said women would be able to work and study within the limits laid down by sharia. The issue is of major importance to the international community and could impact the amount of aid and other assistance that is given to Afghanistan, which is in the throes of economic crisis. Watch this video.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें