scorecardresearch
 

खोपड़ी में गोली के साथ 48 वर्षों से जीवित है चीनी महिला

चीन में डॉक्‍टरों ने एक 62 वर्षीय महिला की खोपड़ी से सर्जरी कर बंदूक की गोली निकाली है. खास बात यह है कि यह गोली महिला के सिर में पिछले 48 साल से थी और महिला को इस बारे में कोई जानकारी नहीं थी.

X

चीन में डॉक्‍टरों ने एक 62 वर्षीय महिला की खोपड़ी से सर्जरी कर बंदूक की गोली निकाली है. खास बात यह है कि यह गोली महिला के सिर में पिछले 48 साल से थी और महिला को इस बारे में कोई जानकारी नहीं थी.

एक चीनी अखबार के मुताबिक, झाओ नाम की यह महिला बीते दिनों लंबे अरसे से बंद नाक, सिर दर्द और नसों में सूजन की शिकायत लेकर डॉक्‍टर के पास आई थी. वहीं, जांच के दौरान चीन मेडिकल यूनिवर्सिटी के डॉक्‍टरों ने पाया कि उसकी नाक के पास कोई छोटा मेटल फंसा हुआ है. इसके बाद डॉक्‍टरों ने उसकी सर्जरी की जिसमें 2.5 सेमी लंबा और 0.5 सेमी व्‍यास की एक गोली बाहर निकली.

14 साल की उम्र से थी समस्‍या, सोचती थी पत्‍थर है
सर्जरी के बाद जब डॉक्‍टरों ने झाओ को गोली मिलने की बात कही तो वह आश्‍चर्य में पड़ गई. उसने बताया कि 14 साल की उम्र में उसके सिर के दाईं ओर किसी चीज से चोट लगी थी. तब उसे लगा था कि वह कोई पत्‍थर है.

झाओ कहती हैं, 'मुझे खुशी है कि गोली लगने से मेरी मौत नहीं हुई. मैं ईश्‍वर को धन्‍यवाद देना चाहूंगी कि उसने मुझ जीने और परिवार के साथ समय बिताने का मौका दिया.'

दूसरी ओर, डॉक्‍टरों का कहना है कि गोली लगने से झाओ की मौत इसलिए नहीं हुई कि गोली उसके सिर में लगने के बाद नाक की तरफ मुड़ गई और दिमाग में घुसने की बजाय वहीं अटक गई.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें