scorecardresearch
 

अफगानिस्तान के कंधार में मौजूद है तालिबान का सुप्रीम लीडर हिबतुल्‍ला अखुंदजादा, सामने आई नई तस्वीर

तालिबान के सुप्रीम लीडर हिबतुल्‍ला अखुंदजादा की एक नई तस्वीर सामने आई है. तालिबान ने दावा किया है कि इस समय अखुंदजादा भी अफगानिस्तान के ही एक प्रांत में मौजूद है.

हिबतुल्ला अखुंदजादा हिबतुल्ला अखुंदजादा
स्टोरी हाइलाइट्स
  • हिबतुल्‍ला अखुंदजादा की नई तस्वीर आई
  • तालिबान बोला- अखुंदजादा कंधार में मौजूद

अफगानिस्तान में तालिबान का कब्जा हुए 15 दिन बीत चुके हैं. अब कट्टर संगठन अगली सरकार बनाने की तैयारी कर रहा है. तालिबान को 31 अगस्त का इंतजार है, जब अमेरिकी सैनिक अफगानिस्तान से चले जाएंगे. काबुल पर कब्जे के बाद तालिबान का नेतृत्व अफगानिस्तान वापस लौटने लगा था. मुल्ला अब्दुल गनी बरादर से लेकर अन्य अहम लीडर्स इस समय अफगानिस्तान में ही हैं. इस बीच, तालिबान के सुप्रीम लीडर हिबतुल्‍ला अखुंदजादा की एक नई तस्वीर सामने आई है. तालिबान ने दावा किया है कि इस समय अखुंदजादा भी अफगानिस्तान के ही एक प्रांत में मौजूद है.

अफगानिस्तान की मीडिया में हिबतुल्‍ला अखुंदजादा की नई तस्वीर सामने आई है. वह लंबे समय से काफी कम बार देख गया है. इसमें वह एक जगह बैठा हुआ दिखाई दे रहा है और सफेद रंग के कपड़े पहने हुए हैं. उसके चेहरे पर भी स्माइल देखी जा सकती है. उधर, तालिबान के प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद ने बताया है कि अखुंदजादा इस समय कंधार में मौजूद है. वह काफी समय से ही वहां रह रहा है. तालिबान ने यह भी जानकारी दी है कि जल्द ही अखुंदजादा सार्वजनिक जगह पर उपस्थित होगा.

हिबतुल्‍ला अखुंदजादा की नई तस्वीर
हिबतुल्‍ला अखुंदजादा की नई तस्वीर

स्थानीय मीडिया की रिपोर्ट्स के अनुसार, दो साल पहले अखुंदजादा की मौत की खबरें सामने आई थीं. इसके बाद अब जब उसकी नई तस्वीर सामने आ गई है, तब वह खबरें सिर्फ अफवाह ही साबित हुई हैं. हालांकि, पिछले दो सालों से अखुंदजादा का कोई भी वीडियो या फिर वॉयस मैसेज सामने नहीं आया है.

बता दें कि अखुंदजादा ने साल 2016 में कट्टर संगठन तालिबान की कमान अपने हाथों में ली थी. वह शुरुआत से ही काफी कम बार देखा गया है. इसके अलावा, साल 2017 में इसके एक बेटे की आत्मघाती हमले के दौरान मौत भी हो चुकी है.

नजदीक आ गई 31 अगस्त की तारीख

तालिबान समेत दुनियाभर के देशों के लिए 31 अगस्त की तारीख काफी महत्वपूर्ण है, जिसमें अब सिर्फ एक ही दिन बचा है. दरअसल, 31 अगस्त तक अमेरिका को अफगानिस्तान से पूरी तरह वापसी कर लेनी है. तालिबान के साथ हुए समझौते के अनुसार, अमेरिका के बड़ी संख्या में सैनिक वापस जा चुके हैं, जबकि कुछ हजार इस समय काबुल एयरपोर्ट पर मौजूद हैं. इस समय रेस्क्यू अभियान चलाकर अपने नागरिकों और अफगानों को सुरक्षित बाहर निकाला जा रहा है.    

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×