scorecardresearch
 

सीरिया में विपक्ष ने सेना पर रासायनिक हमले का आरोप लगाया, 1300 लोग मरे

सीरिया के मुख्य विपक्षी दल ने आरोप लगाया है कि सेना ने बुधवार को दमिश्क के निकट विद्रोहियों पर हमला करने के लिए रासायनिक हथियारों का प्रयोग किया और इस ‘नरसंहार’ में 1,300 से ज्यादा लोग मारे गए हैं.

सीरिया के मुख्य विपक्षी दल ने आरोप लगाया है कि सेना ने बुधवार को दमिश्क के निकट विद्रोहियों पर हमला करने के लिए रासायनिक हथियारों का प्रयोग किया और इस ‘नरसंहार’ में 1,300 से ज्यादा लोग मारे गए हैं.

कार्यकर्ताओं द्वारा बांटे जा रहे वीडियो में चिकित्सक एक बच्चे का इलाज करते दिख रहे हैं जिसका दम घुट रहा है, हालांकि वीडियो की सत्यता की अभी तक जांच नहीं की जा सकी है. अन्य फुटेज में कई लोग जमीन पर पड़े हुए दिखाई दे रहे हैं. मरे हुए लोगों में कई बच्चे भी शामिल हैं. कुछ सफेद कपड़ों से ढ़के हुए हैं.

रासायनिक हथियारों के कथित प्रयोग का तत्काल सत्यापन नहीं हो सका है. दमिश्क लगातार संयुक्त राष्ट्र के समक्ष रासायनिय हथियारों के प्रयोग से इनकार करता रहा है. उसका कहना है कि यह संयुक्त राष्ट्र के मिशन को रोकने की कोशिश है.

कार्यकर्ताओं के एक नेटवर्क लोकल कोऑर्डिनेशन कमेटी (एलसीसी) ने सरकार की ओर से विषैली गैस के प्रयोग से सैकड़ों लोगों के मारे जाने की बात कही है. सरकारी संवाद समिति ‘सना’ की खबर के अनुसार, ‘गोउता में रासायनिक हथियारों के प्रयोग की खबर झूठी है. यह संयुक्त राष्ट्र के आयोग को उसका मिशन पूरा करने से रोकने की कोशिश है.’ ब्रिटेन के विदेश मंत्री विलियम हेग ने कहा कि उनका देश रासायनिक हथियारों के प्रयोग के मामले को सुरक्षा परिषद में उठाएगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें