scorecardresearch
 

पीएम मोदी ने किया अफगानिस्तान की संसद के नए इमारत का उद्घाटन, संबोधन में कही अहम बातें

एक दिन की अफगानिस्तान यात्रा पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को वहां की संसद की नई इमारत का उद्घाटन किया. इसके बाद संसद को संबोधित करते हुए मोदी ने दोनों देशों के संबंधों से जुड़ी कई महत्वपूर्ण बातें कहीं.

मोदी ने अफगानिस्तान संसद को किया संबोधित मोदी ने अफगानिस्तान संसद को किया संबोधित

प्रधानमंंत्री नरेंद्र मोदी दो दिन की रूस यात्रा खत्म करके शुक्रवार को एक दिवसीय दौरे पर अफगानिस्तान पहुंचे. काबुल में उन्होंने अफगानिस्तान की संसद की नई इमारत का उद्घाटन किया, जिसे भारत की मदद से बनाया गया है.

 

 

इमारत का उद्घाटन करने के बाद पीएम ने अफगान संसद को संबोधित भी किया. PM मोदी ने कहा कि ये इमारत भारत और अफगानिस्तान की दोस्ती का प्रतीक है.

पीएम मोदी ने अफगान संसद में कई अहम बातें कहीं.

अटल बिहारी वाजपेयी का पुराना सपना
मोदी ने कहा कि भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने 11 साल पहले अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति हामिज करजई के साथ पार्टनरशिप में इस प्रोजेक्ट का सपना देखा था, जो अब जाकर साकार हुआ है. उन्होंने कहा कि वाजपेयी के जन्मदिन पर अफगानिस्तान की संसद का उद्घाटन करना काफी अहम है और इस काम के लिए अटल बिहारी वाजपेयी के जन्मदिन से खास कोई और दिन नहीं हो सकता था.

वाजपेयी के नाम पर हॉल
अफगानी संसद के एक हॉल का नाम अटल ब्लॉक रखा गया है. मोदी ने कहा कि वो इस बात से खासे प्रभावित हैं.

दोस्ती की प्रतीक नई संसद
भारत ने अफगानिस्तान की संसद को बनाने में मदद की है. मोदी ने कहा कि ये इमारत दोनों देशों की दोस्ती का प्रतीक है. उन्होंने कहा कि भारत, अफगानिस्तान का हमदर्द है और हमेशा उसकी मदद के लिए तत्पर रहेगा. मोदी ने कहा कि भारत और अफगान के हर नागरिक के दिल में एक-दूसरे के लिए बेहद प्यार है. भारत-अफगान स्वतंत्रता संग्राम का इतिहास साझा है.

आतंक के खात्मे से होगा विकास
मोदी ने अफगानिस्तान की संसद में भी आतंकवाद का मुद्दा उठाया. उन्होंने कहा कि आतंकवाद अफगानिस्तान के विकास के रास्ते में बाधा बन रहा है. उन्होंने कहा, 'बुलेट को बैलेट से हराना होगा. आतंक के खात्मे से ही अफगानिस्तान का विकास होगा. अपनी आवाज को नहीं, शब्दों को बुलंद करें. फूलों को पनपने में बारिश मदद करती है, तूफान नहीं. पीएम मोदी ने कहा कि अफगानिस्तान में शांति से पूरे क्षेत्र की तरक्की होगी.'

लोगों की अपेक्षा पूरी करेगी ये संसद
मोदी ने कहा कि अफगानिस्तान लोकतंत्र मजबूत हो रहा है और संसद इसमें बड़ी भूमिका अदा करेगी. उन्होंने कहा कि ये अफगानिस्तान के लोगों की अपेक्षाएं पूरी करेगी.

मदद का भरोसा
मोदी ने इस बात का भरोसा दिलाया कि भारत हमेशा अफगानिस्तान की मदद करेगा. इसके साथ ही उन्होंने ऐलान किया कि भारत की तरफ से शहीद अफगान सुरक्षाबलों के 500 बच्चों को स्कॉलरशिप दी जाएगी. नरेंद्र मोदी ने कहा, 'जब आपने नई सदी में नए सफर की शुरुआत की, तो हमें आपके साथ खड़े रहने और आपके कदम से कदम मिलाने में गर्व महसूस हुआ. हमारी पार्टनरशिप से ग्रामीण लोगों को स्कूल, सिंचाई की सुविधा, हेल्थ केयर सेंटर और महिलाओं को अवसर मिले हैं.'

पाक पर साधा निशाना
अफगानिस्तान संसद को संबोधित करते हुए मोदी ने पाकिस्तान पर निशाना साधा. उन्होंने पाक का नाम लिए बिना कहा कि उनकी इस यात्रा से कुछ लोग असहज महसूस कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि भारत-अफगान दोस्ती के कई दुश्मन हैं. कुछ लोगों को भारत और अफगानिस्तान की दोस्ती से जलन है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें