scorecardresearch
 

अफगानिस्तान में PAK चॉपर की क्रैश लैंडिंग, तालिबान ने सवार सभी 7 लोगों को बंधक बनाया

पाकिस्तानी दूतावास के प्रवक्ता अख्तर मुनीर ने बताया कि पंजाब सरकार का हेलीकॉप्टर एमआई-17 मरम्मत के लिए रूस जा रहा था. लेकिन अफगानिस्तान के लोगार प्रांत में क्रैश लैंडिंग करनी पड़ी है.

एमआई-17 चॉपर (File Photo) एमआई-17 चॉपर (File Photo)

पाकिस्तान का एक हेलीकॉप्टर गुरुवार को अफगानिस्तान में क्रैश लैंड हो गया. तालिबान ने हेलीकॉप्टर को आग के हवाले कर दिया और उसमें सवार सभी सात लोगों को बंधक बना लिया है.

पाकिस्तानी दूतावास के प्रवक्ता अख्तर मुनीर ने बताया कि पंजाब सरकार का हेलीकॉप्टर एमआई-17 मरम्मत के लिए रूस जा रहा था. लेकिन अफगानिस्तान के लोगार प्रांत में क्रैश लैंडिंग करनी पड़ी है.

उन्होंने कहा, 'हेलीकॉप्टर को क्रैश लैंडिंग की जरूरत क्यों पड़ी और उसमें सवार लोगों का क्या होगा, इस बारे में हमें कोई जानकारी नहीं है.'

स्थानीय डिस्ट्र‍िक्ट गवर्नर हमीदुल्ला हामिद ने बताया कि तालिबान के आतंकवादियों ने हेलीकॉप्टर में सवार सभी सात लोगों को बंधक बना लिया है और उन्हें अज्ञात जगह पर ले गए हैं. बंधक बनाए गए लोगों में एक रूस का नागरिक भी है.

गवर्नर के प्रवक्ता सलीम सालेह ने बताया कि क्रैश करने के बाद हेलीकॉप्टर में आग लग गई. पाकिस्तान की सेना ने इस बात से इनकार किया है कि यह चॉपर उनका है. जबकि अफगानिस्तान के अधिकारियों का दावा है कि यह पाकिस्तानी सेना का है और इसमें सवार छह लोग पूर्व सैनिक हैं.

इस बीच, अफगान तालिबान के प्रवक्ता जबीबुल्ला मुजाहिद ने कहा है कि उन्हें इस घटना के बारे में कोई जानकारी नहीं है.

पाकिस्तानी अधिकारियों के मुताबिक हेलीकॉप्टर ने सुबह 8 बजकर 45 मिनट पर पेशावर से उड़ान भरी थी और इसे उजबेकिस्तान के बुखारा में उतरना था. पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय का दावा है कि अफगानिस्तान के अधि‍कारियों ने इसे अपने इलाके के ऊपर से उड़ने की इजाजत दी थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें