scorecardresearch
 

इमरान का एजेंडा- पाकिस्तान को बनाया जाएगा मदीने जैसा

क्रिकेटर से राजनेता बने 65 वर्षीय इमरान ने कहा, 'अल्लाह ने मुझे मौका दिया है. मैं अल्लाह का शुक्रगुजार हूं कि 22 साल तक संघर्ष करने के बाद अब पाकिस्तान का सेवा करने का मौका मिला है. मैं पाकिस्तान को मदीने की तरह स्थापित करने की कल्पना करना चाहता हूं, जहां विधवाओं और गरीबों का ख्याल जाता है.'

पीटीआई के प्रमुख इमरान खान पीटीआई के प्रमुख इमरान खान

पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के प्रमुख इमरान खान आम चुनाव में मिली जीत के बाद पहली बार आम जनता के सामने आए और उन्हें धन्यवाद देते हुए कहा कि उन्होंने मदीना की तर्ज पर 'कल्याणकारी राज्य' की स्थापना की कल्पना की है जो विधवाओं और समाज के कमजोर वर्गों के प्रति सहानुभूति रखेगा.

पाकिस्तान में हुए आम चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी के रूप में पीटीआई के उभरने के बाद इमरान खान ने अपने पहले संबोधन में पाकिस्तान के लिए अपने दृष्टिकोण को साझा किया और आम नागरिकों के हितों की रक्षा करने का संकल्प लिया.

क्रिकेटर से राजनेता बने 65 वर्षीय इमरान ने कहा, 'अल्लाह ने मुझे मौका दिया है. मैं अल्लाह का शुक्रगुजार हूं कि 22 साल तक संघर्ष करने के बाद अब पाकिस्तान का सेवा करने का मौका मिला है. मैं पाकिस्तान को मदीने की तरह स्थापित करने की कल्पना करना चाहता हूं, जहां विधवाओं और गरीबों का ख्याल जाता है.'

इस्लामाबाद के बानी गाला से दिए अपने भाषण में उन्होंने कहा, 'मेरी प्रेरणा आखिरी पैगंबर से आती है जिन्होंने मदीना में एक आदर्श कल्याणकारी राज्य स्थापित किया. मैं चाहता हूं कि पाकिस्तान ऐसा ही बन जाए.'

पीटीआई प्रमुख इमरान खान ने कहा, 'मैं देश के लिए राजनीति में आया हूं. अब जाकर मुझे पाकिस्तान की सेवा का मौका मिला है. पाक से किया वादा मैं निभाऊंगा. हमारी नीतियां कमजोर तबके लिए होंगी. हमें मजदूर गरीबों की चिंता भी है.'

उन्होंने वादा किया, 'मैं नम्रता से रहूंगा. अब तक हमने देखा है कि जो भी सत्ता में आता है वह बदल जाता है. वह मेरे साथ नहीं होगा.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें