scorecardresearch
 

शीशे के पीछे चेहरा, फोन पर बात, ऐसे हुई जाधव से पत्नी और मां की मुलाकात

भारत की याचिका पर अंतरराष्ट्रीय न्यायालय ने अपना अंतिम फैसला सुनाए जाने तक सजा की तामील पर रोक लगा दी है.बता दें कि जाधव को पाकिस्तान ने पिछले साल मार्च में गिरफ्तार किया था. इस साल अप्रैल में 47 वर्षीय जाधव को पाकिस्तान की अदालत ने जासूसी के आरोप में मौत की सजा सुनाई थी.

X
कुलभूषण जाधव से ऐसे मिला परिवार
कुलभूषण जाधव से ऐसे मिला परिवार

पिछले 21 महीने से तथाकथित जासूसी के आरोप में पाकिस्तान की जेल में बंद भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव की मुलाकात आज उनकी मां-पत्नी से हुई. इस्लामाबाद स्थित पाकिस्तान विदेश मंत्रालय में ये मुलाकात करीब आधे घंटे तक चली. बंद कमरे में शीशे के आर-पार इस मुलाकात के समय पाकिस्तान में भारतीय उपउच्चायुक्त जेपी सिंह भी परिवार के साथ ही मौजूद रहे.

गौरतलब है कि पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने जाधव को मौत की सजा सुनाई है. हालांकि, अंतरराष्ट्रीय न्यायालय में भारत की अपील के बाद इस फैसले पर फिलहाल रोक लगा हुआ है. आपको बता दें कि आज पाकिस्तान के क़ायदे-ए-आज़म मोहम्मद अली जिन्ना का भी जन्मदिन है, पाकिस्तान का कहना है कि इसी मौके पर वह इंसानियत के नाते इस मुलाकात को करवा रहे हैं.

LIVE UPDATE:

:03:15 PM - आखिरकार लंबे इंतज़ार के बाद कुलभूषण जाधव और उनके परिवार की मुलाकात हो ही गई. इस दौरान मां-पत्नी शीशे के इस तरफ थे और कुलभूषण उस तरफ. सभी के बीच फोन के जरिए ही बात हो पा रही थी.

- 02.16 PM: गिरफ्तारी के 21 महीने बाद कुलभूषण जाधव अपनी मां और पत्नी से मिले.

- 01:56 PM: जाधव से मिलने PAK विदेश मंत्रालय पहुंची मां-पत्नी, आधे घंटे चलेगी मुलाकात. उनके साथ पाकिस्तान में भारत के डिप्टी हाई कमिश्नर जेपी सिंह भी मौजूद हैं. 

- 01:51 PM: विदेश मंत्रालय लाए गए कुलभूषण जाधव, थोड़ी देर में मां-पत्नी भी पहुंचेंगे.

- 01:02 PM: कुलभूषण जाधव की पत्नी और मां भारतीय उच्चायोग पहुंची. थोड़ी देर में विदेश मंत्रालय में जाधव से होगी मुलाकात. यहां वे करीब आधे घंटे तक रुकेंगे.

- 12:55 PM: पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय से पहले भारतीय उच्चायोग जाएंगीं कुलभूषण की पत्नी और मां.

- 12:49 PM: एयरपोर्ट से विदेश मंत्रालय तक के रास्ते में हर जगह शार्प शूटर, पाकिस्तानी रेंजर्स तैनात हैं.

- 12:46 PM एयरपोर्ट से विदेश मंत्रालय तक तीन रास्ते बनाए गए हैं. इन तीनों रास्तों को सील किया हुआ है, इस दौरान आतंकी हमले की भी आशंका है.

- 12:37 PM एयरपोर्ट से विदेश मंत्रालय के रास्ते में ट्रैफिक को रोक दिया गया है, इसी रास्ते से कुलभूषण की मां और पत्नी जा रहे हैं.

- 12:34 PM कुछ ही देर में विदेश मंत्रालय पहुंचेंगी कुलभूषण की मां और पत्नी, विदेश मंत्रालय के बाहर मीडिया का जमावड़ा

- एयरपोर्ट से रवाना हुए कुलभूषण की मां और पत्नी, पाकिस्तान विदेश मंत्रालय में होगी मुलाकात.

- 12.10 PM कुलभूषण जाधव के मां और पत्नी का विमान इस्लामाबाद में लैंड किया. थोड़ी देर में होगी मुलाकात.

- 11.15 AM: कुलभूषण जाधव को राजनयिक मदद मिलने पर भारतीय सूत्रों का कहना है कि ये इस बात पर निर्भर करता है कि क्या जेपी सिंह को उनसे मिलने दिया जाता है या नहीं.

- इस बीच, पाकिस्तान सरकार ने कुलभूषण जाधव को राजनयिक मदद देने को मंजूरी दे दी है. इससे पहले 6 से अधिक बार पाकिस्तान भारत की ये मांग ठुकरा चुका है. इसकी जानकारी पाकिस्तान के विदेश मंत्री ख्वाजा आसिफ ने पाकिस्तान के मीडिया चैनल जियो न्यूज़ को दी.

- पाक अधिकारियों के मुताबिक सोमवार को जाधव की मां और पत्नी इस्लामाबाद पहुंचेंगी और मुलाकात के बाद आज ही वापस लौट आएंगी. पाकिस्तान में भारतीय उप उच्चायुक्त जे पी सिंह, जाधव की पत्नी और मां के साथ इस मुलाकात में मौजूद होंगे. बताया जा रहा है कि ये मुलाकात करीब एक घंटे तक चल सकती है.

- मुलाकात के तौर तरीके को लेकर भारत लगातार पाकिस्तान के संपर्क में हैं. पाकिस्तान की ओर से यह भी बयान आ चुका है कि अगर भारत का रुख सकारात्मक रहा, तो जाधव के परिजनों को मीडिया से भी बातचीत करने की इजाजत दी जा सकती है.

जाधव को मौत की सजा सुनाई थी

पाकिस्तान ने बीते 20 दिसंबर को जाधव की पत्नी और मां को इस्लामाबाद के दौरे के लिए वीजा जारी किया था. पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने जासूसी और आतंकवाद संबंधी आरोपों को लेकर अप्रैल में 47 साल के जाधव को मौत की सजा सुनायी थी जिसके बाद मई में भारत ने अंतरराष्ट्रीय न्यायालय का रूख किया था. भारत की याचिका पर अंतरराष्ट्रीय न्यायालय ने अपना अंतिम फैसला सुनाए जाने तक सजा की तामील पर रोक लगा दी है.

बता दें कि जाधव को पाकिस्तान ने पिछले साल मार्च में गिरफ्तार किया था. इस साल अप्रैल में 47 वर्षीय जाधव को पाकिस्तान की अदालत ने जासूसी के आरोप में मौत की सजा सुनाई थी. जाधव को कोर्ट ने अपना पक्ष रखने और भारतीय राजनयिक से मिलने की इजाजत तक नहीं दी.

पाक ने लगाए संगीन आरोप

पाकिस्तान का दावा है कि भारतीय नौसेना के कमांडर जाधव भारत की प्रमुख खुफिया एजेंसी रिसर्च एंड एनलिसिस विंग(रॉ) के लिए काम कर रहे थे. इस्लामाबाद का कहना है कि तीन मार्च 2016 को बलूचिस्तान में कानून प्रवर्तन एजेंसियों ने उनको अवैध रूप से पाकिस्तान में पकड़ लिया गया था. हालांकि भारत का कहना है कि जाधव एक पूर्व नौसेना अधिकारी हैं और वो रॉ के लिए काम नहीं कर रहे थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें