scorecardresearch
 

भारत शांतिपूर्ण भविष्य के लिए अफगानिस्तान सरकार और लोगों का समर्थन करता है: विदेश मंत्रालय

अफगानिस्तान और तालिबान के बीच चल रहे खूनी संघर्ष के बीच भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा है कि भारत एक शांतिपूर्ण, लोकतांत्रिक और समृद्ध भविष्य की आकांक्षा को साकार करने में अफगान सरकार और लोगों का समर्थन करता है.

अरिंदम बागची अरिंदम बागची
स्टोरी हाइलाइट्स
  • भारत शांतिपूर्ण भविष्य के लिए अफगान सरकार का समर्थन करता है
  • तालिबान और अफगानिस्तान के बीच संघर्ष तेज

अफगानिस्तान और तालिबान के बीच चल रहे खूनी संघर्ष के बीच भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा है कि भारत एक शांतिपूर्ण, लोकतांत्रिक और समृद्ध भविष्य की आकांक्षा को साकार करने में अफगान सरकार और लोगों का समर्थन करता है.

साप्ताहिक ब्रीफिंग को संबोधित करते हुए, विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा कि भारत और अफगानिस्तान के द्विपक्षीय संबंध एक रणनीतिक समझौते से चलते हैं जिस पर अक्टूबर 2011 में हस्ताक्षर किए गए थे.

वहीं, यह पूछे जाने पर कि क्या तालिबान के हमले के बीच अफगान सेना की मदद करने की कोई योजना है, बागची ने कहा, ''भारत और अफगानिस्तान के द्विपक्षीय संबंध एक रणनीतिक समझौते से निर्देशित होते हैं, जिस पर अक्टूबर 2011 में हस्ताक्षर किए गए थे."

उन्होंने कहा, "एक पड़ोसी के रूप में, भारत एक शांतिपूर्ण लोकतांत्रिक और समृद्ध भविष्य को साकार करने में सरकार और लोगों का समर्थन करता है, जिसमें अफगानिस्तान के सभी वर्गों के हितों में महिलाएं और अल्पसंख्यक शामिल हैं."

बागची ने जिनेवा में अफगान सम्मेलन में विदेश मंत्री एस जयशंकर के भाषण को याद किया, जिसके दौरान विदेश मंत्री ने अफगानिस्तान के विकास के लिए भारत की दीर्घकालिक प्रतिबद्धता की पुष्टि की थी. बता दें कि पिछले कुछ हफ्तों में, अफगानिस्तान में हिंसा में काफी बढ़ोतरी हुई है. तालिबान ने नागरिकों और अफगान सुरक्षा बलों के खिलाफ अपने आक्रमण को तेज कर दिया है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें