scorecardresearch
 

ढाका हमलाः हर तरफ हुई निंदा, भारत से उठी आवाज- आतंकवाद का कोई देश या धर्म नहीं

भारत के संसदीय कार्य राज्य मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा कि आतंकवाद सिर्फ आतंकवाद होता है. इसकी कोई राष्ट्रीयता या मजहब नहीं होता. इसके जवाब इसी कड़ाई के साथ होनी चाहिए.

ढाका हमले की हुई कड़ी निंदा- ये आतंकी धर्म के दुश्मन ढाका हमले की हुई कड़ी निंदा- ये आतंकी धर्म के दुश्मन

बांग्लादेश की राजधानी ढाका के हाई सिक्योरिटी इलाके गुलशन रोड में शुक्रवार की रात हथियारबंद आतंकियों ने 26/11 मुंबई हमले की तर्ज पर ही दहशत फैलाने की कोशिश की. ढाका के डिप्लोमैट जोन के करीब होली आर्टिसन बेकरी में घुसकर विदेशियों को बंधक बनाने की कोशिश में सात में 6 आतंकी ढेर हो गए और एक को पकड़ लिया गया. इस हमले में 20 लोग आतंकियों का शिकार बन गए.

हमले के बाद हर तरफ से निंदा के बोल उठे. आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट ने इसकी जिम्मेदारी ली. वहीं बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना ने ऑपरेशन थंडरबोल्ट खत्म होने के बाद कहा कि ये कैसे मुसलमान हैं जो रमजान के दिनों में हत्या करते हैं. इसके अलावा भारत से बड़े राजनेताओं ने हमले की निंदा की और आतंकवाद के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद की. कुछ खास लोगों की प्रतिक्रियाएं -

शेख हसीना बोलीं- रमजान में कौन मुसलमान हत्याएं करेगा
आतंकियों का कोई धर्म नहीं होता. ये आतंकी धर्म के दुश्मन थे. रमजान में कौन मुसलमान हत्याएं करेगा ? हमें ऑपरेशन खत्म करने में कामयाबी मिली. इसमें 7 आतंकी हमले में शामिल थे. हमले में करीब 30 पुलिसवाले जख्मी हुए हैं. बहादुरी से लड़ने के लिए हमारे कमांडो का शुक्रिया. विदेशी मीडिया ऐसे किसी आतंकी हमले में मौत की तस्वीरें नहीं दिखाती, लेकिन हमारे यहां टीवी चैनलों में इस तरह की फोटो दिखाने में होड़ सी लग जाती है. इससे बचना चाहिए.

आतंकवाद से लड़ने में मजहब या राष्ट्रीयता न देखें
भारत के संसदीय कार्य राज्य मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा कि आतंकवाद सिर्फ आतंकवाद होता है. इसकी कोई राष्ट्रीयता या मजहब नहीं होता. इसके जवाब इसी कड़ाई के साथ होनी चाहिए. ऐसे आतंकी हमले विश्व समुदाय के सामने भारत की बात साबित करते हैं. हम समय-समय पर कहते रहते हैं कि आतंकवाद से सब मिलकर लड़ें.

केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा ने कहा कि ढाका हमले की हम निंदा करते हैं. हमारे प्रधानमंत्री दुनियाभर में कहते हैं कि आतंकवाद के खिलाफ हम सबको मिलकर और आगे बढ़कर लड़ना होगा. मैं उन्हीं की बात दोहराता हूं. दुख की घड़ी में हम बांग्लादेश के साथ खड़े हैं. भारत ने इस हमले का संज्ञान लिया है.

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट किया कि हमारी दुआएं ढाका और बांग्लादेश के लोगों के साथ हैं. इस तरह की बेमतलब हिंसा के खिलाफ हम सबको मिलकर मजबूती से लड़ना चाहिए.

कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना की बातों को आगे बढ़ाया. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि शेख हसीना की बातों से मेरी पूरी सहमति है. उन्होंने ढाका हमले की निंदा करते हुए कहा कि बेगुनाहों को मारने वाले ऐसे रेडिकल लोगों के खिलाफ खड़े होने की हिम्मत दिखानी चाहिए. यह हम सबके लिए एक सबक की तरह है.

डिफेंस एक्सपर्ट कमर आगा ने कहा कि इस दुखद घटना के तार पाकिस्तान से भी जुड़ते हैं. आतंकियों को वहां से लगातार मदद मिल रही है. हमें इस बारे में भी सोचना होगा.

वहीं अमेरिका की ओर से भी ढाका हमले की कड़ी निंदा की गई, लेकिन उनकी ओर से फिलहाल हमले की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट के लेने से जुड़े तथ्यों की पुष्टि नहीं की गई.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें