scorecardresearch
 

बांग्लादेश: एक और पुजारी पर जानलेवा हमला, हालत नाजुक

बांग्लादेश में अज्ञात हमलावरों ने 48 साल के एक हिंदू पुजारी को चाकू मारकर घायल कर दिया. इस घटना से एक ही दिन पहले इस्लामिक स्टेट (आईएसआईएस) के आतंकवादियों ने एक हिंदू पुजारी और एक बौद्ध नेता की धारदार हथियार से हमला करके हत्या कर दी थी.

हमलावरों ने हिंदू पुजारी को चाकू मार कर बुरी तरह घायल कर दिया हमलावरों ने हिंदू पुजारी को चाकू मार कर बुरी तरह घायल कर दिया

बांग्लादेश में अज्ञात हमलावरों ने 48 साल के एक हिंदू पुजारी को चाकू मारकर घायल कर दिया. इस घटना से एक ही दिन पहले इस्लामिक स्टेट (आईएसआईएस) के आतंकवादियों ने एक हिंदू पुजारी और एक बौद्ध नेता की धारदार हथियार से हमला करके हत्या कर दी थी.

पुलिस ने शनिवार को बताया कि सत्खिरा जिले में श्री श्री राधा गोविंद मंदिर के भाबासिंधु राय पर उस समय मंदिर में हमला किया गया जब वह सो रहे थे.

हमले के बाद पुजारी की हालत नाजुक
‘डेली स्टार’ ने पुलिस के हवाले से बताया कि सात से आठ हमलावरों ने पुजारी के घर का दरवाजा खटखटाया. पुजारी ने यह सोचकर दरवाजा खोला कि बाहर रात में पहरा देने वाला गार्ड होगा. इस बीच हमलावर घर में घुस आए. उन सबने धारदार हथियारों से पुजारी के सीने और पीठ पर हमला किया. उनकी हालत गंभीर बताई जा रही है.

पुजारी को मरा हुआ समझकर हमलावर फरार
पीड़ित की पत्नी समित्रा बोर के हवाले से पुलिस ने बताया कि घटनास्थल पर किसी के पहुंचने से पहले ही हमलावर वहां से फरार हो गए. हाल के दिनों में बांग्‍लादेश में कई धार्मिक अल्पसंख्यकों और उदारवादी लोगों की हत्‍या हो चुकी है. इन हत्‍याओं की जिम्‍मेदारी इस्लामिक स्टेट ने ली है.

बांग्लादेश में धार्मिक अल्पसंख्यकों पर हमले बढ़े
गौरतलब है कि बांग्लादेश में करीब 1.5 करोड़ हिंदू आबादी है. जून 2016 में नलदंगा मंदिर के पुजारी अनंत गोपाल गंगुल की नुकीले हथि‍यार से वार कर हत्या कर दी गई थी, जबकि फरवरी 2016 में पुजारी जगेश्वर राय को आतंकियों ने मौत के घाट उतार दिया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें