scorecardresearch
 

इमरान को करतारपुर से आस, लिखा- कॉरिडोर खुलने से सुधरेगी अर्थव्यवस्था

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा है कि पाकिस्तान दुनिया भर के सिखों के लिए अपने दरवाजे खोलने के लिए तैयार है क्योंकि करतारपुर परियोजना पर निर्माण कार्य अंतिम चरण में प्रवेश कर चुका है.

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (फाइल फोटो- फेसबुक) पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (फाइल फोटो- फेसबुक)

  • करतारपुर से अर्थव्यवस्था सुधारने की इमरान खान की उम्मीद
  • भारत और दुनिया के अन्य हिस्सों से श्रद्धालुओं के आने की आस

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा है कि पाकिस्तान दुनिया भर के सिखों के लिए अपने दरवाजे खोलने के लिए तैयार है क्योंकि करतारपुर परियोजना पर निर्माण कार्य अंतिम चरण में प्रवेश कर चुका है.

इमरान खान ने  फेसबुक पोस्ट में पाक पीएम इमरान खान ने कहा है कि करतापुर कॉरिडोर 9 नवंबर 2019 को सार्वजनिक रूप से खुलेगा. उन्होंने कहा कि विश्व के सबसे बड़े गुरुद्वारे में भारत और दुनिया के अन्य हिस्सों से सिख आएंगे.

वहीं उन्होंने पोस्ट में लिखा है कि यह सिख समुदाय के लिए एक प्रमुख धार्मिक केंद्र बनेगा और स्थानीय अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देगा. इमरान खान ने दावा किया है कि यह सिख समुदाय के लिए एक प्रमुख धार्मिक केंद्र बन जाएगा, और स्थानीय अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देगा.

करतारपुर कॉरिडोर सबके लिए खुलने से रोजगार और पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा. पाकिस्तान में धार्मिक पर्यटन भी बढ़ेगा. इससे पहले बुद्ध श्रद्धालुओं ने भी पाकिस्तान में दिलचस्पी दिखाई है.

ऑनलाइन पंजीकरण शुरू

बता दें करतारपुर कॉरिडोर के लिए तीर्थयात्रियों का ऑनलाइन पंजीकरण शनिवार से ही शुरु हो चुका है. हाल ही में लॉन्च वेबसाइट के जरिए ऑनलाइन फॉर्म भर सकते हैं.

सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक देव की 550वीं जयंती के लिए श्रद्धालुओं का पहला जत्था 5 नवंबर और दूसरा जत्था 6 नवंबर को रवाना होगा.

भारतीय सिख तीर्थयात्रियों के लिए अगले महीने करतारपुर कॉरिडोर खोल दिए जाने की संभावना है. भारत और पाकिस्तान के बीच श्रद्धालुओं के दर्शन के लिए शुल्क को लेकर विवाद बना हुआ है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें