scorecardresearch
 

श्रीलंका की रक्षा मंत्रालय की वेबसाइट पर मोदी-जयललिता की आपत्तिजनक तस्‍वीर

श्रीलंका की रक्षा मंत्रालय की वेबसाइट www.defence.lk पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और तमिलनाडु की मुख्‍यमंत्री जे. जयललिता की आपत्तिजनक तस्‍वीर लगाई गई है. दरअसल वेबसाइट पर एक लेख दिया गया है जिसका शीर्षक है- ‘जयललिता के प्रेम पत्र मोदी के लिए कितने सार्थक हैं?’

X
श्रीलंकाई रक्षा मंत्रालय की वेबसाइट से ली गई तस्‍वीर श्रीलंकाई रक्षा मंत्रालय की वेबसाइट से ली गई तस्‍वीर

श्रीलंका की रक्षा मंत्रालय की वेबसाइट www.defence.lk पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और तमिलनाडु की मुख्‍यमंत्री जे. जयललिता की आपत्तिजनक तस्‍वीर लगाई गई है. दरअसल वेबसाइट पर एक लेख दिया गया है जिसका शीर्षक है- ‘जयललिता के प्रेम पत्र मोदी के लिए कितने सार्थक हैं?’

इसी लेख के साथ यह आपत्तिजनक तस्‍वीर भी दी गई है. जाहिर है इस तरह की तस्‍वीर से हंगामा तो होना ही था. एनडीए की सहयागी पीएमके ने इस पर आपत्ति जताई है. उधर, एमडीएमके के नेता वायको का कहना है कि भारत सरकार को श्रीलंका से हर तरह के रिश्‍ते तोड़ लेने चाहिए. तस्‍वीर पर विवाद बढ़ता देख मंत्रालय ने अब यह तस्‍वीर अपनी वेबसाइट से हटा ली है.

हालांकि मामला श्रीलंकाई समुद्री क्षेत्र में भारतीय मछुवारों के मछली पकड़ने का है. श्रीलंकाई समुद्री क्षेत्र में भारतीय मछुआरों को पकड़ने और उसके बाद उन्‍हें छोड़ने को ले‍कर इस लेख में बात की गई है. लेख में कहा गया है कि हाल में भंडारनायके सेंटर फॉर इंटरनेशनल स्‍टडीज के निमंत्रण पर आए बीजेपी के उच्‍चस्‍तरीय डेलिगेशन ने साफ किया था कि दोनों देशों के संबंधों के बीच में तमिलनाडु नहीं आएगा.

इस डेलिगेशन का नेतृत्‍व बीजेपी नेता सुब्रह्मण्‍यम स्‍वामी कर रहे थे. इस लेख में जयललिता को नखरे छोड़ने की सलाह भी दी गई है और कहा गया है कि वे अपने मछुवारों के लिए भारतीय सीमा में दूसरी जगह ढूंढें.

लेख में कहा गया है कि जल्‍द ही जयललिता को पता चल जाएगा कि नरेंद्र मोदी उनके नखरों और धमकियों पर नाचने वाली कठपुतली नहीं हैं. उन्‍हें अपने कार्यों से मोदी को नीचा नहीं दिखाना चाहिए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें