scorecardresearch
 

Taiwan China Tensions: चीन को टक्कर देने के लिए ताइवान ने दिखाया अपने सबसे खतरनाक फाइटर जेट, जानिए इसकी फायरपावर

Fighter Jet of Taiwan F-16V: ताइवान ने अपने सबसे ताकतवर और खतरनाक फाइटर जेट का खुलासा कर दिया है. उसने इसकी तस्वीरें भी जारी की हैं.

X
ताइवान के हुआलियेन काउंटी से टेकऑफ को तैयार F-16V फाइटर जेट्स. (फोटोः AFP)
ताइवान के हुआलियेन काउंटी से टेकऑफ को तैयार F-16V फाइटर जेट्स. (फोटोः AFP)

ताइवान (Taiwan) ने 17 अगस्त 2022 की रात अपने सबसे ताकतवर, तेज और खतरनाक फाइटर जेट की तस्वीरें जारी की. उनकी उड़ानें भी हुईं. वो भी रात में. एक्टिव मिसाइलों से लोडेड यह लड़ाकू विमान बेहद घातक दिख रहा था. ताइवान ने यह काम चीन के चल रहे युद्धाभ्यास के जवाब में किया है. ताइवान ने अपने फाइटर जेट की युद्ध तैयारियों की जांच करने के लिए रात में इसकी उड़ान भरवाई. इस फाइटर जेट का नाम है एफ-16वी (F-16V). 

हुआलियेन काउंटी के एयरबेस से 17 अगस्त 2022 की रात छह F-16V फाइटर जेट ने सॉर्टी की. (फोटोः AFP)
हुआलियेन काउंटी के एयरबेस से 17 अगस्त 2022 की रात छह F-16V फाइटर जेट ने सॉर्टी की. (फोटोः AFP)

ताइवान की राजधानी ताइपे ने चीन के खिलाफ युद्ध की स्थिति में किस तरह से फाइटर जेट्स का उपयोग किया जाएगा. इसका रात में प्रदर्शन किया. ताइवानी एयरफोर्स के जवानों ने एफ-16वी (F-16V) फाइटर जेट को मिसाइलों से लैस किया. इसके बाद इसके कॉम्बैट रेडीनेस की जांच करने के लिए देश के पूर्वी हुआलियेन काउंटी से उड़ान भरी गई. इस फाइटर जेट पर अमेरिका निर्मित एंटी-शिप मिसाइल लोडेड थी. 

ताइवान एयरफोर्स के जवानों ने इस लड़ाकू विमान पर मिसाइलों को लगाने का काम शाम से ही शुरू कर दिया था. (फोटोः AFP)
ताइवान एयरफोर्स के जवानों ने इस लड़ाकू विमान पर मिसाइलों को लगाने का काम शाम से ही शुरू कर दिया था. (फोटोः AFP)

बुधवार की रात ताइवान के छह एफ-16वी (F-16V) फाइटर जेट्स ने सॉर्टी की. इस दौरान इन विमानों ने ट्रेनिंग के साथ-साथ निगरानी का भी काम किया. एयरफोर्स ने एक बयान जारी करके कहा कि हर जगह युद्धक्षेत्र हैं. ट्रेनिंग किसी भी समय की जा सकती है. ताकि देश की सुरक्षा का ख्याल रखा जा सके. ताइवान लगातार चीन के घुसपैठ के डर में जी रहा है. चीन का दावा है कि ताइवान का पूरा द्वीप उसका हिस्सा है. वह एक दिन इसे लेकर रहेगा, चाहे ताकत लगानी पड़े. 

ताइवान के पास पुराने F-16 फाइटर फाल्कन भी है, जो वह अमेरिका से लाया था. (फोटोः गेटी)
ताइवान के पास पुराने F-16 फाइटर फाल्कन भी है, जो वह अमेरिका से लाया था. (फोटोः गेटी)

ताइवान लगातार अपने पुराने फाइटर जेट्स की फ्लीट को अपग्रेड कर रहा है. बीजिंग से मिलिट्री एक्शन के खतरे को कम करने के लिए वह अपने बचाव और हमले से संबंधित हथियारों पर लगातार काम कर रहा है. चीन के फाइटर जेट्स अक्सर ताइवान के वायु क्षेत्र में घुस आते हैं. जिन्हें भगाने के लिए ताइवान अपने फाइटर जेट्स को भेजता है. रेडियो चेतावनी देता है. ताइवान के पास F-16 फाइटर जेट्स के अत्याधुनिक वैरिएंट एफ-16वी (F-16V) है. 

एफ-16वी (F-16V) एक मल्टी रोल एयर सुपीरियोरिटी फाइटर जेट है. इसके नाम में लगा V अक्षर का मतलब होता है वाइपर (Viper). इसमें अत्याधुनिक एक्टिव इलेक्ट्रॉनिकली स्कैन्ड एरे राडार, नया मिशन कंप्यूटर, इलेक्ट्रॉनिक वॉरफेयर सूईट, ऑटोमेटेड ग्राउंड कोलिजन एवॉयडेंस सिस्टम लगा है. इसके अलावा कॉकपिट में कई बदलाव किए गए हैं. 

F-16V फाइटर जेट में कई तरह के बम, मिसाइलें या रॉकेट या फिर इनका मिश्रण लगाया जा सकता है.
F-16V फाइटर जेट में कई तरह के बम, मिसाइलें या रॉकेट या फिर इनका मिश्रण लगाया जा सकता है. 

अमेरिका द्वारा बनाया गए सबसे बेहतरीन लड़ाकू विमानों में से एक. 48 सालों से कई देशों का भरोसेमंद फाइटर जेट. अब तक करीब 4604 यूनिट्स बनाए गए हैं. इस फाइटर प्लेन को एक पायलट उड़ाता है. 49.5 फीट लंबे प्लेन में एक बार में 3200 किलोग्राम फ्यूल आता है. यह अधिकतम 2178 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से उड़ सकता है. 

पूरे हथियारों के साथ इसकी कॉम्बैट रेंज 546 किलोमीटर है. इसमें एक 20 मिमी की रोटरी कैनन लगी है. जो प्रतिमिनट 511 राउंड फायर करती है. इसके अलावा इसमें 2 एयर-टू-एयर मिसाइल, 6 अंडर विंग, 3 अंडर फ्यूसलेज पाइलॉन बम लगाए जा सकते हैं. इसके अलावा 4 रॉकेट या 6 हवा से हवा, हवा से सतह या हवा से शिप पर मार करने वाली मिसाइलें लगाई जा सकती हैं. या फिर इनका मिश्रण. इसमें आठ बम भी लगाए जा सकते हैं. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें