scorecardresearch
 

बलूचिस्तान में PAK-चीन गठजोड़ के खि‍लाफ सड़कों पर उतरे लोग

ये रैली अवारन जिले के कोलवा इलाके में निकाली गई. डेरा बुगती समेत बलूचिस्तान के विभिन्न इलाकों में पाकिस्तानी सेना ने दमनचक्र छेड़ रखा है.

प्रदर्शन के दौरान जमा लोग प्रदर्शन के दौरान जमा लोग

बलूचिस्तान के लोगों पर पाकिस्तानी सेना जुल्म की इंतेहा करने में कोई कसर नहीं छोड़ रही, वहीं अत्याचार के खि‍लाफ बलोच कार्यकर्ता भी सड़कों पर निकल कर विरोध प्रदर्शन करने से पीछे नहीं हट रहे. बलोच रिपब्लिकन पार्टी ने पाकिस्तानी सेना के अत्याचारों और बलूचिस्तान में चीनी घुसपैठ के विरोध में सोमवार को रैली निकाली. इसमें प्रमुख बलोच नेता नवाब बराहुमदाग बुगती के समर्थन में जोरदार नारे लगाए गए.

ये रैली अवारन जिले के कोलवा इलाके में निकाली गई. डेरा बुगती समेत बलूचिस्तान के विभिन्न इलाकों में पाकिस्तानी सेना ने दमनचक्र छेड़ रखा है. सेना के जवान इलाके के लोगों को अगवाकर उनकी हत्या कर रहे हैं और दहशत कायम करने के लिए शव को इलाके में फेंक दिया जाता है. यही नहीं, सेना द्वारा कुछ लोगों की आंखें फोड़ने के आरोप भी सामने आए हैं.

चीन के घसपैठ से लोगों में नाराजगी
बलोच कार्यकर्ताओं का गुस्सा चीन पर भी कम नहीं है. वे बलोच जमीन पर चीनी घुसपैठ से सख्त नाराज हैं. कार्यकर्ताओं का मानना है कि आर्थिक परियोजनाओं का नाम देकर चीन बलूचिस्तान में जो कर रहा है, वो बलोच लोगों की पहचान और अस्तित्व के लिए ही चुनौती बन गया है.

लोगों पर जुल्म, संसाधनों की लूट
रैली में महिलाओं और बच्चों समेत बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं ने हिस्सा लिया. ये बेखौफ पाकिस्तान और चीन के खिलाफ नारे लगा रहे थे. प्रदर्शनकारियों का कहना था कि चीन और पाकिस्तान ने बलूचिस्तान के कोने-कोने में बलोच संसाधनों को लूटने और लोगों पर जुल्म बरपाने का नापाक सिलसिला शुरू किया हुआ है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें