scorecardresearch
 

कैलिफोर्निया में गोलीबारी में 18 लोगों की मौत, 66 और 72 साल के हमलावरों के टारगेट पर थे अप्रवासी?

18 लोगों की जान लेने वाले इन हमलों में संदिग्ध रिटायरमेंट की आयु के पुरुष थे, जो ऐसी गोलीबारी के विशिष्ट अपराधियों की तुलना में बहुत बड़े थे. अधिकारियों ने कहा कि आरोपी दो पुरुष, हू कैन ट्रान, 72, और चुनली झाओ, 66, ने सेमी ऑटोमेटिक पिस्तौल का इस्तेमाल किया था.

X
कैलिफोर्निया में गोलीबारी
कैलिफोर्निया में गोलीबारी

उत्तरी कैलिफोर्निया के मशरूम फार्मों  में गोलीबारी में 18 लोगों की जान चली गई. अधिकारियों ने मंगलवार को ये जानकारी दी है. मामला शनिवार और सोमवार का है. जहां लॉस एंजिल्स क्षेत्र के एक डांस हॉल में शनिवार की रात 11 लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी, जिसमें ज्यादातर एशियाई मूल के थे, और सात लोग सोमवार को कृषि श्रमिकों पर हमले में मारे गए थे, उनमें से कई सैन फ्रांसिस्को के पास हाफ मून बे के समुद्र तटीय शहर में रहे रहे अप्रवासी थे.

दोनों हमलों में संदिग्ध रिटायरमेंट की आयु के पुरुष थे, जो ऐसी गोलीबारी के विशिष्ट अपराधियों की तुलना में बहुत बड़े थे. अधिकारियों ने कहा कि आरोपी दो पुरुष, हू कैन ट्रान, 72, और चुनली झाओ, 66, ने सेमी ऑटोमेटिक पिस्तौल का इस्तेमाल किया था. दोनों हमलों के शिकार लोग अप्रवासी समुदायों से थे. एक ओर ट्रान ने लॉस एंजिल्स के पास मोंटेरे पार्क में ल्यूनर न्यू ईयर का जश्न मना रही बॉलरूम नर्तकियों पर गोली चलाई, और झाओ ने हाफ मून बे में 380 मील उत्तर में हिस्पैनिक और एशियाई मूल के फॉर्म वर्कर्स पर गोलियां चलाईं थीं.

ट्रान ने शनिवार की रात एक दूसरे डांस स्टूडियो पर भी हमला करने की कोशिश की थी, लेकिन क्लब के संचालक से भिडंत को बाद उसे निहत्था कर दिया गया. अगली सुबह, उसने पुलिस के वाहन की चालक सीट पर खुद को गोली मार ली. वहीं झाओ को सोमवार शाम एक शेरिफ स्टेशन के बाहर गिरफ्तार किया गया था, जहां अधिकारियों ने कहा कि उसने हॉफ मून बे में गोलीबारी के तुरंत बाद आत्मसमर्पण किया था.

बता दें कि इससे पहले हाल ही में कैलिफोर्निया के गोशेन में एक घर में गोलीबारी हुई थी. जिसमें 17 वर्षीय मां और छह महीने के बच्चे सहित छह लोगों की मौत हो गई थी. पुलिस ने इसे टारगेट किलिंग करार दिया था. तुलारे काउंटी के शेरिफ माइक बॉउड्रीक्स ने बताया था कि हार्वेस्ट रोड के 6800 ब्लॉक में छह लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गई. इस घटना में दो थे, जो पकड़े नहीं गए. यह हिंसा नहीं, बल्कि टारगेट किलिंग थी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें