scorecardresearch
 

अफगानिस्तानः मौत की अफवाह के बीच टीवी इंटरव्यू में दिखा Dy PM मुल्ला बरादर

सोशल मीडिया पर यह खबर वायरल होने लगीं कि मुल्ला बरादर प्रधानमंत्री नहीं बनाए जाने से बेहद नाराज है. राष्ट्रपति भवन में हक्कानी और बरादर के बीच सत्ता संघर्ष को लेकर जमकर लड़ाई हुई, जिसमें एक की मौत हो गई जबकि दूसरा घायल हो गया.

टीवी इंटरव्यू में दिखा डिप्टी पीएम मुल्ला बरादर (फोटो-ट्विटर) टीवी इंटरव्यू में दिखा डिप्टी पीएम मुल्ला बरादर (फोटो-ट्विटर)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कुछ दिन से सोशल मीडिया पर बरादर की मौत की खबर वायरल
  • बरादर की मौत की खबर को पहले ही खारिज कर चुका तालिबान
  • अफवाहों को बढ़ा-चढ़ाकर पेश किया गया, स्वस्थ हूंः मुल्ला बरादर

अफगानिस्तान की नई तालिबान सरकार में मुल्ला गनी बरादर के डिप्टी प्रधानमंत्री बनाए जाने के बाद उसकी मौत को लेकर सोशल मीडिया पर तेजी से एक अफवाह फैली थी जिस पर तालिबान की ओर से सफाई भी पेश की गई. और अब मुल्ला बरादर अफगानिस्तान की टीवी पर एक इंटरव्यू में दिखाई दिया है.

हालांकि कुछ समय पहले सोशल मीडिया पर तेजी से यह बात फैलनी शुरू हुई कि मुल्ला बरादर की मौत हो गई है. डिप्टी प्रधानमंत्री अफगानिस्तान के सरकारी टीवी चैनल पर इंटरव्यू के दौरान दिखाई दिया है. 

अफगानिस्तान के सांस्कृतिक आयोग के मल्टीमीडिया ब्रांच के प्रमुख अहमदुल्ला मुत्तकी ने मुल्ला बरादर की तस्वीर के साथ एक फोटो ट्वीट करते हुए कहा कि डिप्टी प्रधानमंत्री मुल्ला बरादर का यह लेटेस्ट इंटरव्यू आज प्रसारित होगा. और दुश्मनों की ओर से फैलाए जा रहे प्रोपेगैंडा का खात्मा हो जाएगा.

तालिबान कर चुका खारिज

मुल्ला बरादर की मौत की खबर को तालिबान पहले ही गलत करार दे चुका है. तालिबान प्रवक्ता सुहैल शाहीन ने सोमवार को कहा था, 'मुल्ला बरादर की मौत या फिर घायल होने की खबरें गलत हैं. इसमें कोई भी तथ्य नहीं है साथ ही यह सच भी नहीं है. मैं इसे पूरी तरह से खारिज करता हूं.'

इसे भी क्लिक करें --- अफगानिस्तान: तालिबान के दो गुटों में क्रेडिट की जंग, हक्कानी ग्रुप और मुल्ला बरादर आमने-सामने!

पिछले महीने अफगानिस्तान पर कब्जे के बाद यह दावा किया जा रहा था कि मुल्ला अब्दुल बरादर को देश का नया प्रधानमंत्री बनाया जाएगा, लेकिन तालिबान ने जब अंतरिम सरकार का ऐलान किया किया तो सभी को चौंकाते हुए बरादर की जगह मुल्ला हसन अखुंद को प्रधानमंत्री घोषित कर दिया. अखुंद के साथ दो डिप्टी पीएम भी बनाए गए, जिसमें एक मुल्ला बरादर भी शामिल है.

पीएम नहीं बनने से नाराज बरादर!

हालांकि इस ऐलान के बाद से ही सोशल मीडिया पर यह खबरें तेजी से वायरल होने लगीं कि बरादर खुद को प्रधानमंत्री नहीं बनाए जाने से बेहद नाराज है. ट्विटर पर पंजशीर एनआरएफ के अकाउंट से यह दावा किया गया कि हमारे पास विश्वसनीय खबरें हैं कि मुल्ला बरादर की मौत हो गई है जबकि हक्कानी घायल हो गया है. उसने दावा किया कि दोनों के बीच सत्ता संघर्ष को लेकर राष्ट्रपति भवन में जमकर लड़ाई हुई, जिसमें एक की मौत हो गई जबकि दूसरा घायल हो गया.

दूसरी ओर, मुल्ला बरादर ने अपनी मौत की अफवाहों के बाद एक ऑडियो टेप भी जारी किया था. तालिबान के प्रवक्ता मोहम्मद नईम ने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा कि कुछ मीडिया संस्थानों में यह अफवाह चल रही है कि मुल्ला बरादर मारा गया या घायल हो गया था, जो कि असत्य हैं. नईम ने मौत की अफवाह के लिए 'फर्जी प्रचार' को जिम्मेदार ठहराया. उन्होंने कहा कि यह सब प्रचार निराधार है.

डिप्टी प्रधानमंत्री मुल्ला अब्दुल बरादर ने भी अपने बारे में चल रहे सभी अफवाहों को खारिज कर दिया. उसने ऑडियो मैसेज जारी कर कहा, 'अफवाहों को बहुत बढ़ा-चढ़ाकर पेश किया गया है, मैं सुरक्षित और स्वस्थ हूं.'

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें