scorecardresearch
 

अफगानिस्तानः चीफ ऑफ स्टाफ फसीहुद्दीन का ऐलान, जल्द ही अपनी सेना तैयार करेगा तालिबान

चीफ ऑफ स्टाफ कारी फसीहुद्दीन ने कहा कि सुरक्षा और स्थिरता को बाधित करने वाले कुचले जाएंगे और तालिबान का विरोध करने वालों को गिरफ्तार किया जाएगा.

तालिबान के कार्यवाहक चीफ ऑफ स्टाफ कारी फसीहुद्दीन (ट्विटर) तालिबान के कार्यवाहक चीफ ऑफ स्टाफ कारी फसीहुद्दीन (ट्विटर)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 'जल्द ही नियमित सेना, बल का गठन किया जाएगा'
  • 'तालिबान का विरोध करने वालों को गिरफ्तार करेंगे'
  • हम देश में गृह युद्ध छिड़ने नहीं देंगेः कारी फसीहुद्दीन

अफगानिस्तान के पास जल्द ही एक सुव्यवस्थित सेना और बल होगा. तालिबान के कार्यवाहक चीफ ऑफ स्टाफ कारी फसीहुद्दीन ने आज बुधवार को काबुल में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि सेना के गठन पर विचार-विमर्श चल रहा है और जल्द ही एक नियमित सेना और बल का गठन किया जाएगा.

चीफ ऑफ स्टाफ कारी फसीहुद्दीन ने सेना को लेकर तालिबान की आगे की रणनीति के बारे में कहा कि अफगानिस्तान की रक्षा के लिए सैनिकों को प्रशिक्षित भी किया जाना चाहिए. हम देश में गृह युद्ध छिड़ने नहीं देंगे. उन्होंने कहा कि सुरक्षा और स्थिरता को बाधित करने वाले कुचले जाएंगे और तालिबान का विरोध करने वालों को गिरफ्तार किया जाएगा.

इसे भी क्लिक करें --- तालिबान सरकार के विदेश मंत्री ने की पाकिस्तान के राजदूत संग मुलाकात, जानिए किन मुद्दों पर हुई चर्चा

इस बात की जानकारी अफगान मीडिया रिपोर्ट के अलावा तालिबान के सांस्कृतिक आयोग और मल्टीमीडिया शाखा के प्रमुख अहमदुल्ला मुत्ताकी ने ट्वीट कर दी है 

इससे पहले अफगानी समाचार एजेंसी 'बख्तर' ने कल मंगलवार को अपने ट्विटर अकाउंट पर इस खबर की जानकारी दी कि अफगान सेना प्रमुख की कुर्सी पर बैठे फसीहुद्दीन की एक तस्वीर पोस्ट करते हुए कहा कि नए सेना प्रमुख ने पदभार संभाल लिया है.

कारी फसीहुद्दीन को तालिबान का सबसे खतरनाक और ताकतवर लड़ाका माना जाता है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार सितंबर 2019 में कारी फसीहुद्दीन को अशरफ घनी सरकार के दौरान एक एयरस्ट्राइक में मृत घोषित कर दिया गया था, लेकिन तालिबानियों के कब्जे के बाद अब वह अफगानिस्तान के सेना प्रमुख हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें