scorecardresearch
 

बांग्लादेश: इमारत ढहने के मामले में 4 गिरफ्तार

बांग्लादेश में इमारत ढहने के मामले में दो फैक्ट्री मालिकों सहित 4 लोगों को गिरफ्तार किया गया. इस भीषण दुर्घटना में मरने वालों की संख्या बढ़कर 346 हो गई है. राहतकर्मी धातु और कंक्रीट के ढेर में से घायलों को बाहर निकालने में जुटे हैं.

बांग्लादेश में इमारत ढहने के मामले में दो फैक्ट्री मालिकों सहित 4 लोगों को गिरफ्तार किया गया. इस भीषण दुर्घटना में मरने वालों की संख्या बढ़कर 346 हो गई है. राहतकर्मी धातु और कंक्रीट के ढेर में से घायलों को बाहर निकालने में जुटे हैं.

आठ मंजिला व्यावसायिक इमारत राणा प्लाजा बुधवार को ढह गई थी. इसमें कपड़े की 5 फैक्ट्रियां थीं जहां से पश्चिमी परिधान खुदरा दुकानदारों को भेजे जाते थे, साथ ही इस इमारत में एक निजी बैंक और करीब 300 दुकानें थीं.

अब तक 346 शव बाहर निकाले जा चुके हैं, जबकि 2,428 लोगों को जीवित बचाया गया. यह देश का अब तक का सबसे बड़ा बचाव अभियान है.

सेना के प्रवक्ता ने कहा, ‘हमने लोगों को मलबे से जीवित बाहर निकालने के लिए अपना पूरा जोर लगा दिया है.’ इमारत गिरने के 72 घंटे बाद भी भीतर मौजूद ऑक्सीजन, पानी और भोजन ने लोगों को जीवित रखा हुआ है. शनिवार को ही मलबे से 26 लोगों को जीवित बाहर निकाला गया.

प्रधानमंत्री शेख हसीना द्वारा इमारत के मालिक सहित हादसे के लिए दोषी लोगों को गिरफ्तार करने और इनपर मुकदमा चलाने का आदेश देने के बाद न्यू वीव बॉटम्स के अध्यक्ष बी. समद और प्रबंध निदेशक एम. आर. तापस को गिरफ्तार किया गया है.

भवन में आई दरारों से उत्पन्न खतरे को कम करके बताने के आरोप में सावर नगरपालिका के दो अभियंताओं को भी गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने उनके खिलाफ ‘लापरवाही के कारण मौत’ का मामला दर्ज किया है.

स्थानीय लोगों का कहना है कि हादसे के वक्त कपड़ा फैक्ट्री में करीब 3,500 लोग काम कर रहे थे और इनमें ज्यादातर महिलाएं थीं. इमारत का मालिक अभी भी फरार है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×