scorecardresearch
 
विश्व

पाकिस्तान में फिर से फैलने लगा कोरोना, सरकार ने दी दूसरी लहर की चेतावनी

Pakistan
  • 1/9

पाकिस्तान में अभी तक कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर स्थिति नियंत्रण में दिखाई दी है और विश्व स्वास्थ्य संगठन से लेकर तमाम संस्थाएं पाकिस्तान सरकार की तारीफ भी कर चुकी है. हालांकि, अब पाकिस्तान में कोरोना वायरस को लेकर फिर से डर बढ़ रहा है.

Pakistan
  • 2/9

पाकिस्तान के योजना आयोग मंत्री असद उमर ने कोरोनो को लेकर चेतावनी जारी की है. असद उमर ने कहा है कि देश में कोरोना पॉजिटिवटी रेट बढ़ रहा है और इसे रोकने के लिए प्रोटोकॉल का सावधानीपूर्वक पालन करने की जरूरत है.

Pakistan
  • 3/9

असद उमर ने ट्वीट किया, कोरोना का पॉजिटिवटी रेट बढ़कर 2.37 फीसदी हो गया है जो पिछले 50 दिनों में सबसे ज्यादा है. इससे पहले, 23 अगस्त को ये पॉजिटिवटी रेट देखने को मिला था.

Pakistan
  • 4/9

पाकिस्तान में गुरुवार तक कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामले 3,21470 हैं जिनमें से 9209 ऐक्टिव केस हैं.  अब तक 6500 लोगों की मौत हो चुकी है.
 

Pakistan
  • 5/9

पाकिस्तान के मंत्री ने वायरस से होने वाली मौत में बढ़ोतरी का भी जिक्र किया. उमर ने लिखा, "इस सप्ताह के शुरुआती चार दिनों में कोरोना से औसतन मौत का आंकड़ा 11 था जो 10 अगस्त के बाद अधिकतम था. कोरोना के उभार के कई संकेत मिल रहे हैं जिन्हें नजरअंदाज नहीं करना चाहिए."

Pakistan
  • 6/9

पाकिस्तान के मंत्री ने कहा कि कोविड पॉजिटिविटी रेट मुजफ्फराबाद में सबसे ज्यादा है, लाहौर और इस्लामाबाद में भी धीरे-धीरे इसके मामले बढ़ रहे हैं. वक्त आ गया है कि हम सभी फिर से सभी नियमों का गंभीरता से पालन करें, नहीं तो हमें लोगों की आजीविका को प्रभावित करने वाले कदम उठाने पड़ सकते हैं.

Pakistan
  • 7/9

इसी महीने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने लोगों से अपील की थी कि वे मास्क जरूर पहनें और सभी सावधानियां बरतें. सर्दी की वजह से पाकिस्तान में कोरोना की दूसरी लहर आने की आशंका दिख रही है.

Pakistan
  • 8/9

पाकिस्तान में कोरोना का पॉजिटिविटी रेट बढ़ने को लेकर मेडिकल एसोसिएशन ने भी चेतावनी जारी की है. एसोसिएशन ने कहा है कि शैक्षणिक संस्थानों के खुलने के बाद कोरोना वायरस की दूसरी लहर आ सकती है. एसोसिएशन ने कहा है कि अमेरिका, भारत और ईरान में भी कोरोना वायरस की दूसरी लहर आ चुकी है.

Covid-19
  • 9/9

मेडिकल एसोसिएशन ने कहा कि सर्दी आ गई है और स्कूल भी खुल गए हैं लेकिन सरकार और लोगों की तरफ से की गई कोई भी लापरवाही कोरोना की दूसरी लहर को बुला सकती है. हालांकि, ग्राउंड पर हालत बहुत ही खराब है और स्कूलों में मानकों का पालन नहीं किया जा रहा है जो चिंताजनक है.