scorecardresearch
 

उस्मानिया विश्वविद्यालय में छात्रों के 2 गुटों में संघर्ष

उस्मानिया विश्वविद्यालय परिसर में कुछ छात्र संगठनों द्वारा आयोजित एक मांस महोत्सव को लेकर दो विद्यार्थी गुटों के बीच संघर्ष हो गया. इस दौरान पांच विद्यार्थी घायल हो गए. मांस महोत्सव का समर्थन करने वाले एक विद्यार्थी को चाकू घोंप दिया गया. यह जानकारी पुलिस ने सोमवार को दी.

उस्मानिया विश्वविद्यालय परिसर में कुछ छात्र संगठनों द्वारा आयोजित एक मांस महोत्सव को लेकर दो विद्यार्थी गुटों के बीच संघर्ष हो गया. इस दौरान पांच विद्यार्थी घायल हो गए. मांस महोत्सव का समर्थन करने वाले एक विद्यार्थी को चाकू घोंप दिया गया. यह जानकारी पुलिस ने सोमवार को दी.

विश्वविद्यालय परिसर में पिछली आधी रात से ही तनाव का माहौल है, क्योंकि विद्यार्थियों के एक समूह ने 'सी' हॉस्टल पर हमला किया और इस मांस महोत्सव (बीफ फेस्टीवल) का समर्थन करने वाले एक विद्यार्थी को चाकू घोंप दिया. पुलिस ने कहा कि घायल विद्यार्थी को यहां गांधी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. प्रदर्शनकारियों ने राज्य सरकार के स्वामित्व वाले आंध्र प्रदेश सड़क परिवहन निगम (एपीएसआरटीसी) की एक बस को आग के हवाले कर दिया.

कुछ दलित और वामपंथी विद्यार्थियों के समूह द्वारा परिसर में इस मांस महोत्सव को आयोजित करने के बाद रविवार आधी रात को संघर्ष भड़क गया. इन विद्यार्थियों ने हास्टल की भोजन तालिका में इस मांस को शामिल किए जाने सम्बंधी अपनी मांग के समर्थन में यह महोत्सव आयोजित किया था. इस महोत्सव में 200 से अधिक विद्यार्थियों और कुछ प्रोफेसरों ने हिस्सा लिया और इस मांस से बने कई व्यंजनों का लुत्फ उठाया.

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के कार्यकर्ताओं ने इस महोत्सव के खिलाफ प्रदर्शन किया और इस दौरान आयोजकों के साथ उनका संघर्ष हो गया. दोनों पक्षों ने एक-दूसरे पर पत्थरों और डंडों से हमला किया. इस संघर्ष में पांच विद्यार्थी घायल हो गए. दो वाहनों को आग के हवाले कर दिया गया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें