scorecardresearch
 
ट्रेंडिंग

18 साल से जेल में बंद है 'सीरियल किलर मां', अब वैज्ञानिकों ने कहा- उसने नहीं की बच्चों की हत्या

सीरियल किलर मां
  • 1/5

अपने ही चार बच्चों की हत्या के आरोप में बीते 18 सालों से ऑस्ट्रेलिया की जेल में बंद एक महिला सीरियल किलर की आजादी के लिए अब वहां के चिकित्सा विशेषज्ञ और वैज्ञानिकों ने गुहार लगाई है. इन विशेषज्ञों और वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि कथित तौर पर चार बच्चों की मौत के लिए सजायाफ्ता सीरियल किलर कैथलीन फोल्बिग दोषी नहीं हैं. इसके पीछे उन्होंने मजबूत तर्क भी दिया है.
 

सीरियल किलर मां
  • 2/5

कैथलीन फोल्बिग नाम की महिला पर 1990 से 1999 के बीच अपने चार बच्चों की हत्या का आरोप था. इस मामले में दोषी पाए जाने के बाद वो 2003 से जेल में सजा काट रही हैं. द गार्जियन की रिपोर्ट के मुताबिक देश के करीब 90 प्रख्यात वैज्ञानिकों द्वारा हस्ताक्षरित एक याचिका ऑस्ट्रेलियाई अकादमी ऑफ साइंस द्वारा जारी की गई है. इसमें विशेषज्ञों ने प्राकृतिक कारणों से बच्चों की मौत होने के साक्ष्य की ओर इशारा किया है और तर्क दिया है कि महिला को 'बेबी किलर' करार दे दिया गया था.

सीरियल किलर मां
  • 3/5

विशेषज्ञों ने तर्क दिया कि कैथलीन फोल्बिग के सभी चार बच्चे दुर्लभ अनुवांशिक बीमारी से ग्रसित थे जिसकी वजह से उनकी मृत्यु हुई थी. याचिका में, दुर्लभ आनुवंशिक बीमारियों के मुख्य वैश्विक विशेषज्ञों के हस्ताक्षर हैं, विशेषज्ञों ने कहा कि दुर्लभ आनुवंशिक परिवर्तन बच्चों की आकस्मिक मृत्यु की वजह बन थे. याचिका कथित तौर पर फोल्बिग और उसके चार बच्चों की पूरी जीनोमिक अनुक्रमण पर आधारित है. विशेषज्ञों ने पाया कि फोल्बिग की दो बेटियां, सारा और लौरा में आनुवंशिक उत्परिवर्तन की समस्या थी. 

सीरियल किलर मां
  • 4/5

फोल्बिग के बाकी दो बच्चों "कालेब और पैट्रिक के जीनोम में एक अलग दुर्लभ आनुवंशिक जीन की समस्या पाई गयी जो चूहों में पाए जाने वाले घातक मिरगी बीमारी से जुड़ा था. रिपोर्ट में कहा गया है कि पैट्रिक के जन्म से चार महीने पहले ही उसमें मिर्गी के लक्षण का पता चला था, और कालेब को सांस लेने में कठिनाई थी.

सीरियल किलर मां
  • 5/5

प्राकृतिक कारणों से चार बच्चों को खोने वाली फोल्बिग की आजादी के लिए याचिका न्यू साउथ वेल्स के गवर्नर को सौंप दी गई है. कैथलीन फोल्बिग को अपने चार बच्चों कालेब, पैट्रिक, सारा और लॉरा की हत्या करने के कारण जेल में डाल दिया गया था. बच्चों की आयु 19 दिन से 19 महीने के बीच थी. फोल्बिग पर डिप्रेशन के दौरान अपने बच्चों की तस्करी और हत्या करने का आरोप लगा था. वहीं एक बच्चे पैट्रिक की मौत 1991 में आठ महीने की उम्र में हुई थी. लॉरा की मृत्यु 1999 में 19 महीने की उम्र में हुई थी,  कालेब की मृत्यु 1990 में सिर्फ 19 दिन की उम्र में हुई थी.