scorecardresearch
 
ट्रेंडिंग

पोर्न एडिक्ट ने दूसरों के इस लत को छुड़ाने के लिए बनाया ऐप, अब करोड़ों में कमाई

Pornography
  • 1/7

पोर्न की बुरी लत से बेहद परेशान हो चुके एक युवक ने ऐसा काम किया जिसकी आप भी तारीफ करने लगेंगे. पोर्न देखने की आदत को छोड़ने के लिए उस युवक ने खुद के संघर्ष के अनुभव पर एक ऐसा ऐप लॉन्च कर दिया जो अब 90 दिनों के भीतर इस लत से परेशान अन्य लोगों को भी पोर्न देखने से छुटकारा दिला सकता है. (सांकेतिक तस्वीर/Getty)

Pornography
  • 2/7

जैक जेनकिंस नाम के इस युवक को पोर्न देखने की बुरी लत लग गई थी जिस वजह से किसी काम में मन नहीं लगता था. जेनकिंस ने इस लत को छोड़ने की कसम खाई. (तस्वीर - The remojo app)

Pornography
  • 3/7

जैक ने अपने अतीत के बारे में कहा, "यह व्यसन मेरे जीवन को बर्बाद नहीं कर रहा था, लेकिन एक बुरी आदत थी जो मुझे अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने से रोक रही थी. "यह एक वर्जित मुद्दा है.  'मैं पोर्न नहीं देखता' को हम उतना ही स्वीकार्य बनाना चाहते हैं जितना कि 'मैं धूम्रपान नहीं करता' कहना है." (तस्वीर - The remojo app)

Pornography
  • 4/7

खुद इस लत से दूर होने के बाद जेनकिंस को एक ऐसा ऐप बनाने का आइडिया आया जो लोगों को पोर्न की लत छुड़ाने में मदद करे. जैक जेनकिंस ने  क्विट पोर्न फॉर गुड के नाम से ऐप बनाया जो ऐसे लोगों को 90 दिनों के भीतर पोर्न की लत से छुटकारा दिलाता है.  (सांकेतिक तस्वीर/Getty)

Pornography
  • 5/7

इसमें टेक्नोलॉजी और मानव सहायता दोनों का संयोजन है जिससे किसी भी शख्स को इस लत से मुक्ति मिल सकती है. जेनकिंस के इस ऐप को 1 लाख बार से अधिक डाउनलोड किया जा चुका है. (तस्वीर - The remojo app)

Pornography
  • 6/7

डरहम यूनिवर्सिटी में अर्थशास्त्र की पढ़ाई करने वाले 31 साल के जैक को 2019 में अपनी "बुरी आदत" से छुटकारा पाने के बाद इस तरह का आइडिया आया था. उनके इस ऐप में निवेशक अब तक 920,000 यूरो यानी की लगभग 8 करोड़ रुपये भी निवेश कर चुके हैं और अब यह बड़े पैमाने पर लोगों के काम आ रहा है. 
(तस्वीर - Jack Jenkins)

Pornography
  • 7/7

इस ऐप में पोर्न साइट के एक्सेस को रोकने के लिए "लॉक फोन" फ़ंक्शन है और इस तरह की मनोस्थिति में यह लोगों की सहायता करता है. इस मामले में एक संस्था यूके रिहैब ने कहा कि जब वो ऐसे मामलों की जांच करते हैं तो कई बार 13 साल के बच्चे भी इसके शिकार होते हैं. (सांकेतिक तस्वीर/Getty)