scorecardresearch
 

Maharashtra में बाढ़ का महा-प्रकोप, टूटा 40 साल का रिकॉर्ड, बारिश-भूस्खलन से मची तबाही

Maharashtra में बाढ़ का महा-प्रकोप, टूटा 40 साल का रिकॉर्ड, बारिश-भूस्खलन से मची तबाही

बाढ़ एक वार्षिक आपदा है. जिससे दुनिया का शायद ही कोई देश बच पाता है. लेकिन इस वर्ष बाढ़ ने कुछ ज्यादा ही तांडव मचाया है. महाराष्ट्र का तो बाढ़ से बुरा हाल हो गया है. हालात इतने खराब हैं कि बारिश अब आफत बनकर बरस रही है. कहीं बांध टूट रहे है. कहीं पुल बह रहे हैं. तो कहीं इमारतें ढह रही हैं. 40 सालों की सबसे भीषण बाढ़ ने महाराष्ट्र को कैसे डूबा दिया है. बाढ़-भूस्खलन की अलग-अलग घटनाओं में अब तक 100 लोगों से ज्यादा की जान जा चूकी है. वहीं, केंद्र और राज्य सरकार लोगों को बचाने का हर संभव प्रयास कर रही है. सबसे बुरा हाल महाराष्ट्र के रायगढ़ का है. जहां अकेले 50 से अधिक लोगों की मौत हो गई है. देखें वीडियो.

Torrential rains and thunderstorms turned millions of lives upside down in Maharashtra's several districts. Nine districts are severely affected due to the landslides, and heavy rain. 40-Years of rain record is broken. Raigad, Kolhapur, Ratnagiri, Sangli, and Amravati are facing the flood-like situations. Thousands of people have been evacuated and more than 100 people died in the rain-related incidents. Watch the video to know more.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें