scorecardresearch
 

किस्मत कनेक्शन: क्या है निर्जला एकादशी के उपवास की विधि?

किस्मत कनेक्शन के अपने खास शो में आज हम आपको बताएंगे निर्जला एकाशी के महत्व और उपवास की महिमा की. प्रातःकाल स्नान करके सूर्य देवता को जल अर्पित करें.  इसके बाद पीले वस्त्र धारण करके भगवान विष्णु की पूजा करें. उन्हें पीले फूल, पंचामृत और तुलसी दल अर्पित करें. इसके बाद श्री हरि और मां लक्ष्मी के मंत्रों का जाप करें.  किसी निर्धन व्यक्ति को जल, अन्न-वस्त्र, जूते या छाते का दान करें. आज के दिन वैसे तो निर्जल उपवास ही रखा जाता है,  ले‍किन आवश्यकता होने पर जलीय आहार और फलाहार लिया जा सकता है.

In our show Kismat Connection, we will tell you the right way of fasting Nirjala Ekadashi. Nirjala Ekadashi falls on the Ekasabhi of Shukla paksha in the month of Jyestha. Nirjala Ekadashi is the most important and significant Ekadashis out of all 24 Ekadashis in a year. This As per name, this fast should be observed without drinking even a drop of water. Also know exact horoscope of your zodiac signs.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें