scorecardresearch
 

ये तो गुड न्यूज है: गांव को सुंदर बनाने में जुटे युवा

ये तो गुड न्यूज है: गांव को सुंदर बनाने में जुटे युवा

स्वच्छता के प्रति लोगों के माइंडसेट में बदलाव आ रहा है और लोग सरकारी एजेंसियों का इंतजार करने की जगह खुद सफाई में जुट रहे हैं. कहानी पश्चिमी उत्तर प्रदेश के एक गांव की है. पश्चिमी उत्तर प्रदेश के बागपत जिले के मवीकलां गांव की, जहां लोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छता मिशन से इस कदर प्रेरित हुए कि अपने हाथों में झाड़ू उठाकर सफाई के लिए निकल पड़े. ये किसी एक दिन की कहानी नहीं है. बल्कि सफाई अभियान गांव के लोगों की रोजमर्रा की जिंदगी का हिस्सा बन चुका है...

There is a change in the mindset of people towards cleanliness and people are preparing for self cleaning instead of waiting for government agencies. The story is from a village in western Uttar Pradesh. Mavikal village in Baghpat district of western Uttar Pradesh, where people were so inspired by the cleanliness mission of Prime Minister Narendra Modi that they took out a broom in their hands and left for cleanliness. This is not a story of a single day.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें