scorecardresearch
 

चाल चक्र: गायत्री मंत्र से दूर होंगे सभी कष्ट, जानिए इसकी महिमा

चाल चक्र: गायत्री मंत्र से दूर होंगे सभी कष्ट, जानिए इसकी महिमा

गायत्री मंत्र मुख्यतः वेदों की ऋचा है. यह मुख्यतः यजुर्वेद और ऋग्वेद के दो भागों से मिलकर बना है. इस ऋचा में मुख्यतः ईश्वरीय प्रकाश (सविता) की आराधना की गई है, इसलिए इसको सावित्री भी कहा जाता है. गायत्री मंत्र के जाप से भौतिक और आध्यात्मिक दोनों तरह की उपलब्धियां प्राप्त होती हैं. जिस तरह की प्रार्थना के साथ गायत्री मंत्र का जाप किया जाता है, वैसी ही उपलब्धि प्राप्त होती है. शिक्षा एकाग्रता और ज्ञान के लिए गायत्री मंत्र सर्वश्रेष्ठ है. देखें चाल चक्र.

Gayatri Mantra is mainly a hymn of the Vedas. It is mainly composed of two parts of Yajurveda and Rigveda. Divine Light (Savita) has been mainly worshiped in this hymn, hence it is also called Savitri. Gayatri Mantra is best for education, concentration, and knowledge. Watch Chal Chakra.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें