scorecardresearch
 

चाल चक्र: क्या हैं Dwadash Jyotirling और क्या है इनकी उपासना का महत्व?

चाल चक्र: क्या हैं Dwadash Jyotirling और क्या है इनकी उपासना का महत्व?

चाल चक्र के इस खास एपिसोड में पंडित शैलेंद्र पांडेय बात करेंगे कि क्या हैं ज्योतिर्लिंग और क्या है इनकी उपासना का महत्व. साथ में जानें आज का पंचांग और राशिनुसार कैसा रहेगा दिन. ज्योतिष के अनुसार भगवान शिव की साकार रूप में पूजा लिंग स्वरुप में सबसे ज्यादा होती है. जहाँ इस लिंग रूप में भगवान ज्योति के रूप में विद्यमान रहते हैं उसको ज्योतिर्लिंग कहते हैं. भगवान शिव के द्वादश ज्योतिर्लिंग हैं. अन्य शिवलिंगों की पूजा की तुलना में ज्योतिर्लिंगों की पूजा करना अधिक उत्तम होता है. अगर नित्य प्रातः केवल शिवलिंगों के नाम का स्मरण किया जाए तो, माना जाता है कि इससे सात जन्मों के पाप तक धुल जाते हैं. देखें वीडियो.

Today is the sixth day of the holy month Shravan. As per Hindu belief, devotees can boon from Lord Shiva by worshiping with a whole heart. In this special episode of Chaal Chakra, astrologer Shailendra Pandey will discuss what is jyotirlinga, its significance, and its method of worship. Along with this, you will also get to know about your daily horoscope according to your zodiac signs. And, know what is the lucky time of today. Watch the video to know more.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें