scorecardresearch
 

यूक्रेन को मिला 'Anonymous' हैकर ग्रुप का साथ, रूस पर हुआ बड़ा साइबर हमला, कई सरकारी वेबसाइट्स ठप

हैकर के Anonymous ग्रुप ने रूस के खिलाफ मुहिम शुरू कर दी है. रूस की कई वेबसाइट्स को निशाना बनाकर डाउन कर दिया गया. यानी अब साइबर वार भी दोनों तरफ से किया जा रहा है.

X
Hacker
Hacker
स्टोरी हाइलाइट्स
  • रूस की कई सरकारी वेबसाइट्स डाउन
  • Anonymous ग्रुप ने किया है साइबर हमला

Ukraine पर लगातार साइबर हमले हो रहे हैं. इसके लिए उसने रूस को जिम्मेदार ठहराया है. अब हैकर के Anonymous ग्रुप ने रूस के खिलाफ साइबर वार शुरू कर दिया है. इसमें दावा किया गया है कई रूस की सरकारी वेबसाइट्स को निशाना बनाकर उसे बंद कर दिया गया है. 

इस ग्रुप को रिप्रजेंट करने का दावा करने वाले सोशल मीडिया अकाउंट ने दावा किया कि उनलोगों ने रूस की सरकार के खिलाफ साइबर-वार की शुरुआत कर दी है. ये भी दावा दिया गया है यूक्रेन में रूसी मिलिट्री एक्शन के कारण रूस की दर्जनों वेबसाइट्स को निशाना बना कर डाउन कर दिया गया. 

एक रूसी न्यूज साइट के अनुसार रूस सरकार की वेबसाइट्स, रक्षा मंत्रालय जैसी कई वेबसाइट्स इस साइबर अटैक्स के कारण डाउन रहे. कुछ वेबसाइट्स स्लो हो गए जबकि कई वेबसाइट्स को ऑफलाइन कर दिया गया. ये सारा दिन चलता रहा.

इससे जुड़े एक अकाउंट की ओर से ट्वीट किया गया कि हमलोग legion हैं, पुतिन के समय जिनलोगों की जानें गई उसे नहीं भूलेंगे. इसी से जुड़े दूसरे अकाउंट ने ट्वीट किया पुतिन का समय गया अब इस अटैक से रिकवर में करने में काफी दिक्कत आएगी. रिपोर्ट के अनुसार न्यूज साइट RT.Com पर रूसी प्रोपगेंडा फैलाने का आरोप लगाकर निशाना बनया गया. 

डिसेंट्रलाइज्ड कलेक्टिव होने की वजह से Anonymous के पास कोई सेंट्रल लीडरशीप नहीं है. इस वजह से बड़े राजनीतिक मतभेद के कारण उत्पन्न  विवाद के लिए इसका ऑपरेशन जाना जाता है. Anonymous से जुड़े हैकर्स इससे पहले भी इस तरह के अटैक करते रहे हैं. 

Anonymous के हैकर्स इससे पहले अमेरिकी सरकार की वेबसाइट्स, सेंट्रल इंटेलीजेंस एजेंसी(CIA), Westboro Baptist Church, ISIS, Church of Scientology और Epilepsy Foundation को साल 2008 में टारगेट कर चुके हैं. Anonymous का दावा है ये प्राइवेसी की रक्षा के लिए काम करता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें