scorecardresearch
 
टेक न्यूज़

WhatsApp: नई प्राइवेसी पॉलिसी एक्सेप्ट नहीं करने पर भी ऐप के सभी फीचर्स करेंगे काम

WhatsApp Privacy Policy
  • 1/6

जिन वॉट्सऐप यूजर्स ने अभी तक ऐप की नई प्राइवेसी पॉलिसी को एक्सेप्ट नहीं किया है उनके लिए एक राहत भरी खबर है. फेसबुक के स्वामित्व वाले मैसेजिंग ऐप ने कहा है कि जिन यूजर्स ने अभी तक नए टर्म्स और कंडीशन को एक्सेप्ट नहीं किया है उनके किसी भी फंक्शन को लिमिट नहीं किया जाएगा.

 

WhatsApp Privacy Policy
  • 2/6

द वर्ज को दिए स्टेटमेंट में वॉट्सऐप के एक प्रवक्ता ने कहा 'अलग-अलग अधिकारियों और प्राइवेसी एक्सपर्ट्स के साथ हालिया चर्चाओं को देखते हुए हम यह स्पष्ट करना चाहते हैं कि हम उन लोगों के लिए वॉट्सऐप के किसी फंक्शन को बंद नहीं करेंगे, जिन्होंने अभी तक अपडेट एक्सेप्ट नहीं किया है.' प्रवक्ता ने ये भी कहा कि इस फैसले के साथ वॉट्सऐप बना रहेगा.

WhatsApp Privacy Policy
  • 3/6

एक ब्लॉग पोस्ट में वॉट्सऐप ने कंफर्म किया है कि ज्यादातर यूजर्स जिन्होंने नई प्राइवेसी पॉलिसी अपडेट को देखा है, उन लोगों ने इसे पहले ही एक्सेप्ट कर लिया है. साथ ही जिन यूजर्स ने अभी तक इसे एक्सेप्ट नहीं किया है उन्हें रिमाइंडर मिलता रहेगा.

WhatsApp Privacy Policy
  • 4/6

वॉट्सऐप ने कहा 'हम वॉट्सऐप में नोटिफिकेशन डिस्प्ले करना जारी रखेंगे. इस नोटिफिकेशन के जरिए हम अपडेट के बारे में यूजर्स को ज्यादा जानकारी देंगे और जिन्होंने इसे अभी तक एक्सेप्ट नहीं किया है उन्हें रिमाइंड कराते रहेंगे. फिलहाल इन रिमाइंडर्स को लगातार बनाए रखने और ऐप के फंक्शन को सीमित करने का कोई प्लान नहीं है.'

WhatsApp Privacy Policy
  • 5/6

नई पॉलिसी का मतलब ये है कि वॉट्सऐप के जरिए किसी बिजनेस को किए गए मैसेज फेसबुक के साथ भी शेयर किए जाएंगे. यानी वॉट्सऐप पर किसी बिजनेस को मैसेज करना किसी दोस्त या रिश्तेदार को मैसेज करने जैसा नहीं है. कंपनी कहना है कि आपके पर्सनल चैट्स प्राइवेट ही रहेंगे. उन्हें कोई एक्सेस नहीं कर सकता है. क्योंकि, प्लेटफॉर्म  एंड-टू-एंड एन्क्रिप्टेड है.

WhatsApp Privacy Policy
  • 6/6

वॉट्सऐप ने पहले ही साफ कर दिया है नई पॉलिसी एक्सेप्ट नहीं करने पर भी वो किसी का अकाउंट डिलीट नहीं करेगी. पहले कंपनी ने कहा था कि 15 मई तक नई पॉलिसी को एक्सेप्ट नहीं करने पर अकाउंट डिलीट कर दिया जाएगा. बाद में कंपनी ने ये फैसला बदल दिया था. लेकिन, कंपनी ने कहा था कि कुछ फंक्शन सीमित कर दिया जाएगा. हालांकि, अब कंपनी ने ये फैसला भी टाल दिया.