scorecardresearch
 

चलते-चलते चार्ज होंगी गाड़ियां, दुनिया की पहली इलेक्ट्रिक सड़क तैयार

दुनिया की पहली इलेक्ट्रिक सड़क स्वीडन में बनकर तैयार हो गई है. इस सड़क में इलेक्ट्रिक पटरी बिछाई गई है जिससे उसके ऊपर से गुजरने पर इलेक्ट्रिक कारों और ट्रकों की बैटरियों को चार्ज किया जा सकता है. इस सड़क को स्वीडन में स्टॉकहोम के करीब उपयोग के लिए खोल दिया गया है.

फोटो क्रेडिट- eRoadArlanda फोटो क्रेडिट- eRoadArlanda

दुनिया की पहली इलेक्ट्रिक सड़क स्वीडन में बनकर तैयार हो गई है. इस सड़क में इलेक्ट्रिक पटरी बिछाई गई है जिससे उसके ऊपर से गुजरने पर इलेक्ट्रिक कारों और ट्रकों की बैटरियों को चार्ज किया जा सकता है. इस सड़क को स्वीडन में स्टॉकहोम के करीब उपयोग के लिए खोल दिया गया है.

द गार्डियन की रिपोर्ट के मुताबिक, ये सड़क एक सरकारी योजना का हिस्सा है. फिलहाल ये सड़क करीब 2 किलोमीटर लंबी है और भविष्य में इसका विस्तार कर देशभर में करीब 20 हजार किलोमीटर तक सड़कें और हाइवे बनाने की योजना है. ये सड़क एक एम्बडेड इलेक्ट्रिक रेल के जरिए गाड़ियों को चार्ज करती है.

इस सड़क का उपयोग करने के लिए इलेक्ट्रिक कारों या ट्रकों को एक मूवेबल आर्म को इंस्टॉल करने की जरूरत है. यही आर्म पटरी से कनेक्ट होगा और पटरी के ऊपर से गुजरने पर गाड़ियों की बैटरियों को चार्ज करेगा. इस सिस्टम की लागत प्रतिकिलोमीटर 1.2 मिलियन डॉलर है.

सड़क बनाने वाले डेवलपर्स का कहना है कि इस टेक्नोलॉजी से गाड़ियों को चार्ज होने के लिए रुकने की जरूरत नहीं पड़ेगी और समय काफी बचेगा. इससे कार की बैटरियों को भी छोटा किया जा सकता है क्योंकि उन्हें ज्यादा पावर स्टोर करने की जरूरत नहीं होगी. ऐसे में बैटरी बनाने की लागत को भी कम किया जा सकता है.

प्रोजेक्ट से जुड़े एक अधिकारी ने बताया कि, इस रेल के ऊपरी हिस्से नें कोई बिजली नहीं है. बिजली पटरी के 5-6 सेंटीमीटर भीतर है. इस पर नंगे पांव भी चला जा सकता है. हालांकि जब आप सड़क को पूरी तरह से नमकीन पानी ढंक देंगे तो हमने पाया कि सरफेस पर इलेक्ट्रिसिटी का लेवल 1 वोल्ट था.      

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें