scorecardresearch
 

फंसेगा JIO का न्यू ईयर ऑफर?, TRAI से मांगी सफाई

JIO का न्यू ईयर ऑफर पिछले कई दिनों से विवादों में है. टेलीकॉम ऑपरेटर्स से मिल रही शिकायतों पर पहले TRAI ने जियो को क्लिन चिट दे दी थी पर अब ट्रीब्यूनल ने TRAI से मामले पर स्पष्टीकरण मांगा है.

फंसेगा JIO का न्यू ईयर ऑफर?, TRAI से मांगी सफाई फंसेगा JIO का न्यू ईयर ऑफर?, TRAI से मांगी सफाई

टेलीकॉम डिस्प्यूट्स एंड अपीलेट ट्रीब्यूनल (TDSAT) ने TRAI से रिलायंस जियो के फ्री वॉयस और डेटा सर्विस पर लगभग एक हफ्ते के अंदर स्पष्टीकरण मांगा है. साथ ही इस पर भी जानकारी मांगी है कि रेगुलेटर ने जियो की सर्विस पर पैनी नजर रखी या नहीं.

इससे पहले पिछले हफ्ते ही टेलीकॉम रेगुलेटर अथॉरिटी ऑफ इंडिया (TRAI) ने जियो को क्लिनचिट दे दी थी. जिसमें उन्होनें बताया था कि रिलायंस जियो का हैपी न्यू ऑफर उसके पुराने वेलकम ऑफर से अलग है.

Xiaomi ने पेश किया Redmi Note 4X, जानिए यह दूसरों से कैसे है अलग

ट्रिब्यूनल ने 15 फरवरी तक TRAI से स्पष्टीकरण जमा करने को कहा है और मामले की अगली सुनवाई 20 फरवरी को रखी गई है. जिसमें ये जानकारी मांगी गई है कि क्या जियो ने अपने A ऑफर (हैपी न्यू ईयर ऑफर) और अपने B ऑफर (वेलकम ऑफर) दोनों के अलग-अलग होने के बारे में TRAI को बताया था. साथ ही ये भी कि क्या जियो के ऑफर्स TRAI के नियमों के भीतर थे.

मार्च में आ सकती Maruti Suzuki की Baleno RS

इससे पहले भारती एयरटेल, आईडिया और वोडाफोन ने टेलीकॉम रेगुलेटर से जियो के मार्च 2017 तक चलने वाले फ्री ऑफर को भेदभावपूर्ण बताते हुए जांच की मांग की थी.

जिसमें TRAI ने कंपनियों को अपना फैसला अटॉर्नी जनरल मुकुल रोहतगी से आए बयान के बाद सुनाया जिसमें उन्होंने राय दी थी कि रिलायंस जियो रेगुलेटर द्वारा सुनिश्चत किए गए किसी भी नियम को नहीं तोड़ता और TRAI को इस मसले पर पड़ने की जरुरत भी नहीं है.

Toyota ने लॉन्च किया Etios Liva, 5.94 लाख रुपये से शुरु

TRAI ने रिलायंस जियो के ऑफर की जांच की और इस नतीजे पर पहुंचा कि जियो का नया हैपी न्यू ईयर ऑफर पुराने वेलकम ऑफर (जिसकी वैलिडिटी 31 दिसंबर तक थी) का एक्सटेंशन नहीं है और दोनों के फायदे भी अलग हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें