scorecardresearch
 

स्पॉट फिक्सिंगः विवेक प्रियदर्शी के नेतृत्व में आगे की जांच

सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई के पुलिस अधीक्षक विवेक प्रियदर्शी को आईपीएल-6 स्पॉट फिक्सिंग प्रकरण की जांच दल का नया मुखिया बनाने की अनुमति दे दी है.

राज कुंद्रा और गुरुनाथ मयप्पन की फाइल फोटो राज कुंद्रा और गुरुनाथ मयप्पन की फाइल फोटो

सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई के पुलिस अधीक्षक विवेक प्रियदर्शी को आईपीएल-6 स्पॉट फिक्सिंग प्रकरण की जांच दल का नया मुखिया बनाने की अनुमति दे दी है. यह जांच दल स्पॉट फिक्सिंग और सट्टेबाजी मामले में आईपीएल के पूर्व सीओओ सुंदर रमन की भूमिका की भी जांच कर रहा है. विवेक प्रियदर्शी को अपनी टीम बनाने का अधिकार भी दिया गया है. रॉयल्स के खिलाड़ी को फिक्सिंग का ऑफर

आपको बता दें कि स्पॉट फिक्सिंग के लेकर कुछ महीने पहले सुप्रीम कोर्ट ने बड़े फैसले सुनाए थे. कोर्ट ने बोर्ड के कई अधिकारियों को लेकर हितों के टकराव का मामला उठाया था. इस कारण से एन श्रीनिवासन को बोर्ड के अध्यक्ष पद से हाथ धोना पड़ा. फिक्सिंगः 12 खिलाड़ियों के रोल पर चुप्पी!

सुप्रीम कोर्ट ने पूर्व चीफ जस्टिस राजेंद्र मल लोढा की अगुवाई में तीन सदस्यीय कमिटी का गठन किया था जो राज कुंद्रा, गुरुनाथ मयप्पन, आईपीएल टीम चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स की सजा को लेकर फैसला करेगी.

अब तक जांच का नेतृत्व बीबी मिश्रा कर रहे थे जो पिछले महीने रिटायर हो गए. पैनल की अर्जी पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने प्रियदर्शी को नया मुखिया नियुक्त किया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें