scorecardresearch
 

सीमा पर सीजफायर और क्रिकेट अलग-अलग हैं: शहरयार खान

सीमा पर गहमागहमी के बीच भारत-पाकिस्‍तान के बीच क्रिकेट सीरीज अपने आप में एक सवाल है, लेकिन पाकिस्‍तान क्रिकेट बोर्ड के अध्‍यक्ष और पूर्व विदेश सचिव शहरयार खान का कहना है कि दोनों अलग-अलग मसले हैं. उनका कहना है कि अब वह वक्‍त आ गया है, जब आगे बढ़ा जाना चाहिए और क्रिकेट दोनों देशों के बीच अहम भूमिका निभा सकता है.

पीसीबी के अध्‍यक्ष शहरयार खान पीसीबी के अध्‍यक्ष शहरयार खान

सीमा पर पाकिस्‍तान की ओर से सबकुछ ठीक नहीं हैं. कुछ दिनों की शांति के बाद एक बार फिर सीजफायर का उल्‍लंघन जारी है. स्थिति पहले से भी खराब है, क्‍योंकि अब निशाने पर सेना के पोस्‍ट ही नहीं आम नागरिक भी हैं. लेकिन इन सब के बीच एक कवायद रिश्‍तों में सुधार की भी है और ऑल टाइम फेवरेट क्रिकेट को इसका जरिया बनाया जा रहा है.

जाहिर तौर पर सीमा पर गहमागहमी के बीच भारत-पाकिस्‍तान के बीच क्रिकेट सीरीज अपने आप में एक सवाल है, लेकिन पाकिस्‍तान क्रिकेट बोर्ड के अध्‍यक्ष और पूर्व विदेश सचिव शहरयार खान का कहना है कि दोनों अलग-अलग मसले हैं. उनका कहना है कि अब वह वक्‍त आ गया है, जब आगे बढ़ा जाना चाहिए और क्रिकेट दोनों देशों के बीच अहम भूमिका निभा सकता है.

पाकिस्‍तान की ओर से लगातार युद्धविराम का उल्‍लंघन हो रहा है. भारत के खिलाफ पाकिस्‍तान में मुहिम चल रही है और न्‍यूयॉर्क में पाकिस्‍तान की ओर से एक बार फिर कश्‍मीर का राग अलापा गया. क्‍या आपको लगता है कि दोनों देशों के बीच क्रिकेट शुरू करने का ये सही वक्‍त है?
क्रिकेट हमेशा एक अलग विषय रहा है. कारगिल युद्ध के तुरंत बाद मैं भारत आया था और हमने क्रिकेट खेला. 2004 भारत-पाकिस्‍तान रिश्‍तों के लिए अच्‍छा नहीं रहा, लेकिन इन परेशानियों से पार पाया जा सकता है.

भारत ने बॉर्डर पार से आ रहे आतंकवादियों का मुद्दा उठाया है. जम्‍मू सेक्‍टर के आर्निया में बार-बार युद्धविराम का उल्‍लंघन हो रहा है. यहां 5 लोगों की मौत हो गई और 25 से ज्‍यादा लोग घायल भी हो गए.
मैं यहां राजनीतिक बयान देने के लिए नहीं आया हूं. लेकिन दोनों देशों के बीच के तनाव से पार पाया जा सकता है. कटु वचनों की जगह अच्‍छी बातें की जा सकती हैं. जहां तक युद्धविराम के उल्‍लंघन का मामला है तो इस संबंध में फ्लैग मीटिंग हो सकती है. दो देशों के बीच इस तरह के मुद्दों को सुलझाया जा सकता है.

पाकिस्‍तान में आतंकवाद एक बड़ा चिंता का विषय है, क्‍या आपको लगता है कि दुबई जैसे किसी तीसरे स्‍थान पर भारत-पाकिस्‍तान के क्रिकेट मैच हो सकते हैं?
हमने भारत में खेला है. आप सही कह रहे हैं कि फिलहाल कोई भी देश पाकिस्‍तान में खेलने नहीं आना चाहता. हमें अंडर 17, अंडर 15 के स्‍तर पर एक-दूसरे के देशों में खेलना चाहिए. इसके अलावा बड़े खिलाड़ी जैसे भारत के राहुल द्रविड़, अनिल कुंबले और पाकिस्‍तान से जावेद मियांदाद जैसे पूर्व खिलाड़ी क्रिकेट डिप्‍लोमेसी के लिए अच्‍छे दूत साबित हो सकते हैं.

भारत-पाकिस्‍तान के क्रिकेट मैचों के लिए दुबई अच्‍छी जगह साबित हो सकता है. भारत ने 2015 में यूएई टूर्नामेंट में भाग लेने के लिए हामी भर दी है.

पाकिस्‍तान क्रिकेट कई तरह की मुसीबतों से घिरा हुआ है. क्‍या आपको लगता है कि भारतीय टीम पाकिस्‍तान के मुकाबले अच्‍छी टीम है?
भारत ने बेहतरीन प्रदर्शन किया है. मैं मानता हूं कि पाकिस्‍तान क्रिकेट टीम एक खास दौर से गुजर रही है. लेकिन ये भी नहीं भूलना चाहिए कि भारत-पाकिस्‍तान के मैचों में एक अलग तरह का वातावरण होता है. जैसा कि दोनों टीमों के बीच पिछली सीरीज का रिजल्‍ट रहा था, वहां हम दो मैच जीते थे और भारतीय टीम एक ही मैच जीत पाई थी. हम मुकाबले के लिए तैयार हैं.

आपके स्‍टार स्‍पिनर सईद अजमल पर गंभीर आरोप लगे हैं. क्‍या आपको लगता है कि वो वर्ल्‍ड कप खेलने के लिए समय पर तैयार हो पाएगा?
हमें तो उम्‍मीद है कि वो समय पर तैयार हो जाएगा. हमारे पास उसके लिए कोच हैं, एक्‍सपर्ट हैं. मैंने दो दिन पहले ही उससे बात की है और उसने मुझसे कहा, ‘सर, मैं जानता हूं मेरे खेल में कहां कमी है, मैं इसे सही कर लूंगा.’ हमें उम्‍मीद है कि वो विश्‍व कप के लिए तैयार हो जाएगा.

जिस तरह से अभी राजनीतिक माहौल गर्म है, क्‍या आपको लगता है कि ये दोनों देशों के बीच क्रिकेट रिश्‍ते शुरू करने का सही वक्‍त है?
भारत और पा‍किस्‍तान में क्रिकेट को हमेशा प्‍यार मिलता है. दोनों देशों के मैच में एक अलग ही वातावरण होता है. मुझे लगता है कि अब वक्‍त आ गया है कि आगे बढ़ा जाए और क्रिकेट दोनों देशों के बीच अहम भूमिका निभा सकता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें