scorecardresearch
 

गुरुनाथ पर माइकल हसी का यू-टर्न, कहा- मैंने किताब में गलत लिखा

आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग में कथित भूमिका के लिए गिरफ्तार हो चुके गुरुनाथ मयप्पन को चेन्नई सुपरकिंग्स टीम का असल मालिक बताने के कुछ दिन बाद ही माइकल हसी ने अपना बयान बदल लिया है. यहां तक कि हसी ने श्रीनिवासन से इस मामले को लेकर माफी मांग ली है.

X
माइकल हसी माइकल हसी

आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग में कथित भूमिका के लिए गिरफ्तार हो चुके गुरुनाथ मयप्पन को चेन्नई सुपरकिंग्स टीम का असल मालिक बताने के कुछ दिन बाद ही माइकल हसी ने अपना बयान बदल लिया है. यहां तक कि हसी ने श्रीनिवासन से इस मामले को लेकर माफी मांग ली है.

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज और चेन्नई सुपरकिंग्स के सलामी बल्लेबाज ने अपनी किताब ‘अंडरनीथ द सदर्न क्रॉस’ में लिखा कि आईपीएल टीम के मालिक और बीसीसीआई अध्यक्ष एन श्रीनिवासन ने फ्रेंचाइजी का नियंत्रण अपने दामाद गुरुनाथ के हाथों में दिया था, लेकिन हसी अब अपनी इस बात से पलट गए हैं.

रिपोर्ट्स के अनुसार, उन्होंने कहा कि उन्हें चेन्नई की टीम में गुरुनाथ की स्थिति अच्छी तरह से पता नहीं थी. हसी ने कहा है, 'बेशक गुरू टीम के इर्द-गिर्द रहता है. मैं जानता था कि वह केपलर (वेसल्स, चेन्नई टीम के आईपीएल 2008 के कोच) और खिलाड़ियों से बात करता था और हम उसे अभ्यास और होटल में भी देखते थे. मैं नहीं जानता था कि उसका आधिकारिक पद क्या है, लेकिन वह अक्सर टीम के साथ रहता था. शायद मैंने गलत बात लिख दी थी.'

हसी ने कहा, 'मैं जानता था कि वह टीम का करीबी हिस्सा था और मैं लगभग हर दिन उसे टीम के इर्द-गिर्द देखता था, लेकिन मैं निश्चित तौर पर श्रीनिवासन के बयान पर सवाल नहीं उठाने जा रहा हूं. टीम को कौन चला रहा है इस बारे में वह मुझसे बेहतर जानते हैं. इसलिए मैं थोड़ा गलत हो सकता हूं.'

हसी ने श्रीनिवासन से मांगी माफी, श्रीनिवासन बोले- डॉन्ट वरी
हसी ने कहा कि वह श्रीनिवासन से भी मिले और उनसे माफी मांगी. श्रीनिवासन चेन्नई टीम की मालिक इंडिया सीमेंट के उपाध्यक्ष भी हैं.

हसी ने कहा कि उन्होंने टीम के रात्रि भोज के दौरान श्रीनिवासन के सामने बातें साफ कर दी. 'हम रात्रि भोज कर रहे थे जहां श्रीनिवासन भी मौजूद थे. मैंने उनसे इस बारे में संक्षिप्त बातचीत की और कहा कि यदि मैंने उनकी भावनाओं को चोट पहुंचायी हो तो माफी चाहता हूं.' इस आस्ट्रेलियाई बल्लेबाज ने कहा, 'उन्हें इससे कोई दिक्कत नहीं थी. उन्होंने कहा, ‘नहीं चिंता मत करो. सब कुछ ठीक है. आपसे कोई शिकवा नहीं है. यह विवाद शुरू होने के बाद पहले भी ऐसा लिखा जा चुका है. आपने ऐसा कुछ नहीं किया, जिसको लेकर आप चिंता करो.'

हसी ने उम्मीद जताई कि क्रिकेट छोड़ने के बाद भी वह चेन्नई की टीम से किसी अन्य भूमिका में जुड़े रहेंगे. उन्होंने कहा, 'मैं नहीं मानता (कि किताब में की गई) टिप्पणी से फ्रेंचाइजी के साथ उनके रिश्तों पर असर पड़ेगा. मेरा चेन्नई की टीम में सभी से अच्छे संबंध हैं. मेरे कोच और खिलाड़ियों से अच्छे संबंध हैं और मुझे चेन्नई के साथ काफी सफलता मिली है.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें